आज पंचायत चुनाव के नतीजे, सुबह 8 बजे से शुरू होगी मतों की गिनती

 | 
आज पंचायत चुनाव के नतीजे, सुबह 8 बजे से शुरू होगी मतों की गिनती

मेरठ। आखिरकार इंतजार की घड़ियां हुईं खत्‍म। मेरठ और आसपास के जिलों में आज रविवार को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना के बाद पंचायत सदस्य से लेकर जिंप सदस्य पद के उम्‍मीदवारों के भाग्‍य हो जाएगा। इसके लिए प्रशासन के लिए स्‍तर पर कड़ी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के इंतजाम किए गए हैं। परिणाम को लेकर सभी में उत्‍सुकता है। कोविड को देखते परिणाम आने के बाद जश्‍न मनाने पर सरकार की ओर पाबंदी लगाई गई है। खबर में पढ़िए में किस जिले में मतगणना के दौरान कैसे कैसे प्रबंध किए गए हैं। कोरोना के मद्देनजर सुरक्षा का ख्‍याल भी रखा जाएगा।

मेरठ में यह व्‍यवस्‍था

दौराला-सरधना मार्ग स्थित सरश्री राम इंटर कालेज परिसर में रविवार यानी आज ग्राम प्रधान, जिला पंचायत, क्षेत्रीय पंचायत और ग्राम पंचायत के पद के लिए मतगणना की जाएगी। मतगणना स्थल पर अंदर और बाहर भारी पुलिस बल तैनात रहेगा। प्रत्याशी और उनके एक एजेंट को अपनी 48 घंटे पहले की कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट साथ लानी होगी। जिसके पास रिपोर्ट नहीं होगी, उसकी जांच मतगणना परिसर लगे कैंप में कराई जाएगी, उसके बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। दौराला ब्लाक के बीडीओ डा. साजिद अहमद ने बताया कि सर्वश्री राम इंटर कालेज के मतगणना स्थल में कोविड-19 के नियमों का पालन कराया जाएगा। मतगणना स्थल में 45 गांव प्रधान, तीन जिला पंचायत सदस्य वार्ड-6, 7 और 8, क्षेत्र पंचायत यानी बीडीसी 70 और ग्राम पंचायत सदस्य 104 के लिए गिनती होनी है।

बुलंदशहर में 22255 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना के बाद पंचायत सदस्य से लेकर जिंप सदस्य पद के 22255 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला आज हो जाएगा। किसी के सिर बंधेगा जीत का सहरा तो किसी के हाथ लगेगी मायूसी। जनपद में त्रिस्रीय पंचायत चुनाव के अंतिम चरण का मतदान गुरुवार को संपन्न हुआ था। जिले में 3593 मतदेय स्थलों पर मतदाताओं ने कोरोना संक्रमण के भय तथा गर्मी को दरकिनार करके बड़े उत्साह के साथ मतदान किया था। जिले में मतदाताओं के उत्साह से कोरोना संक्रमण महामारी के बीच 72.80 फीसद मतदान हुआ था।

बागपत में संगीनों के साए में मतगणना

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना रविवार (आज) संगीनों के साए में होगी। दो हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। भीड़ वाले इलाके में असामाजिक तत्वों पर निगरानी रखने के लिए ड्रोन की मदद ली जाएगी। माहौल बिगाडऩे वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।मतगणना शांतिपूर्ण कराने के लिए जनपद को तीन सुपर जोन, दस जोन व 24 सेक्टरों में बांटा गया है। जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों की तैनाती कर दी गई है। मतगणना स्थल पर सिविल पुलिस के साथ-साथ पीएसी भी तैनात रहेंगी। मतगणना स्थल पर प्रत्याशी एजेंट व अनुमान्य लोग ही प्रवेश करेंगे। कोविड-19 की गाइड लाइन का शत प्रतिशत पालन करना होगा।

नहीं ले जा पाएंगे मोबाइल

मतगणना स्थल पर मोबाइल, बीड़ी, माचिस, पानी की बोतल, असलाह आदि सामान प्रतिबंधित है।

विजय जुलूस पर रोक

बागपत के एएसपी का कहना है कि मतगणना का परिणाम घोषित होने के बाद कोई भी विजयी प्रत्याशी जुलूस न निकाले। शांतिपूर्ण तरीके से अपने घर पहुंचे। यदि किसी ने जुलूस या अन्य तरीके से जश्न मनाया तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बिजनौर में भीड़ पर रहेगा अंकुश

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के विभिन्न पदों पर होने वाली प्रत्याशियों की जीत की खुशी पर इस बार कोरोना वायरस भारी पड़ रहा है। मतगणना स्थलों में जिला पंचायत सदस्य पद के लिए तीन एजेंट और ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य और क्षेत्र पंचायत सदस्य के एक एक एजेंटों को ही नियमों के अनुसार प्रवेश दिया जाएगा। लॉकडाउन लागू होने के कारण मतगणना स्थल के बाहर समर्थकों की भीड़ नहीं रहेगी। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य पद के लिए हुए मतदान की मतगणना दो मई यानी रविवार को होगी। निर्वाचन व प्रशासन ने मतगणना की पूरी तैयारी कर ली है। प्रशासन व निर्वाचन आयोग ने मतगणना की तैयारी कर ली है। मतगणना संपन्न कराने के लिए 6,438 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इसके साथ ही 872 कर्मचारियों की ड्यूटी रिर्जव में लगाई गई। साथ चार सौ एआरओ और आरओ तैनात रहेंगे।

सहारनपुर में कोविड नियमों का पालन

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के अंर्तगत रविवार दो मई को सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू होगी। इसके बाद हर गांव की अपनी सरकार का गठन होगा। सुबह 8 बजे से शुरू मतगणना की कार्यवाही समाप्ति तक चलेगी। मतगणना के दौरान कोविड-19 के प्रोटोकाल का शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गए हैं। सबसे पहले रंगों के आधार पर पदवार बिना उम्मीदवारों के मतों की गणना किये मतपत्रों को अलग-अलग छांटा जाएगा। उसके बाद रंगों के आधार पर छांटे गए मत पत्रों को उल्टा रखकर 50-50 की गड्डियां बनाई जाएगी। सभी 11 मतगणना स्थलों पर कुल पड़े 14,69,180 मतों की गिनती की जाएगी। सभी मतगणना केंद्रों पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध कर पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।

इन स्थानों पर होगी मतगणना

विकासखण्ड मुजफ्फराबाद के वैदिक इंटर कालिज, साढौली कदीम के पब्लिक इंटर कालिज, सरसावा के डीसी जैन इंटर कालिज, रामपुर मनिहारान के गोचर कृषि डिग्री कालिज, नानौता के रामकृष्ण इंटर कालिज, देवबन्द के गोकुल चन्द रहती देवी कन्या राजकीय इंटर कालिज, पुंवारका के ड्रीम्ज कालिज पब्लिक स्कूल (द्वारिकाधीश रिसर्च ऐजुकेशन एण्ड मैनेजमेंट स्कूल) जनता रोड, बलियाखेडी के जेवी जैन इंटर कालिज, नकुड के केएलजीएम कालिज, नागल के जनता इंटर कालिज तथा गंगोह के एचआर इंटर कालिज में मतगणना होगी।

1355 कर्मचारी करेंगे गिनती

मतगणना के लिए प्रथम पाली में सुबह 8 बजे मतों की गिनती शुरू की जाएगी जो शाम आठ बजे तक चलेगी। दूसरी पाली रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक चलेगी। मतगणना के लिए एक टेबिल पर पांच कर्मचारियों को लगाया गया है। इस हिसाब से कुल 271 टेबिल पर 1355 कर्मचारी एक बार में मतों की गिनती करेंगे। इनके अलावा 20 प्रतिशत कर्मचारियों को रिजर्व में रखा गया है।