गोली मारकर हत्या घर से बुलाकर युवक की प्रेम प्रसंग में

 | 
गोली मारकर हत्या घर से बुलाकर युवक की प्रेम प्रसंग में

देवरिया। देवरिया के बरहज थाना क्षेत्र के ग्राम करजहां में शुक्रवार की देर शाम शाम घर से बुलाकर युवक की प्रेम प्रसंग में गोली मारकर हत्या कर दी गई। युवक की हत्या के बाद सनसनी फैल गई है। घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारोपित बाइक से फरार हो गए। उधर, घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने हंगामा किया। पुलिस अधीक्षक डा. श्रीपति मिश्र समेत पुलिस के अन्य अधिकारी भी घटना स्थल पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली।

गांव के 22 वर्षीय विश्वजीत उर्फ रंटू पुत्र बुच्चू प्रसाद शाम को अपने घर पर थे, इस बीच बाइक से गांव के ही दो युवक आए और बुलाकर गांव के बाहर स्थित आटा चक्की के पास ले गए। इस बीच बाइक सवारों ने रंटू के चेहरे के समीप गोली मार दी। जिससे रंटू की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद आरोपित फरार हो गए। स्वजन का आरोप है कि हत्या में रंटू की पूर्व प्रेमिका के स्वजनों का हाथ है।

रंटू के दादा तपेसर की गुरुवार की सुबह निधन हो गया। रंटू के साथ ही गांव के लोग अंतिम संस्कार में गौरा घाट पर गए और दोपहर को अंतिम संस्कार कर घर लौट आए। शाम को अन्य कर्मकांड करने की तैयारी चल रही थी। इस बीच गांव के ही दो युवक आए और ले जाकर हत्या कर दी। खास बात यह है कि रंटू की 26 अप्रैल को शादी थी, दूल्हा बनने के पहले ही उनकी हत्या कर दी गई।

युवक की गोली मारकर हत्या की गई है। घटना के पीछे प्रेम प्रसंग बताया जा रहा है। पुलिस टीम जांच कर रही है। जल्द ही घटना का पर्दाफाश करते हुए आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।- डा.श्रीपति मिश्र, पुलिस अधीक्षक

हत्या के बाद स्वजन  पुलिस को शव देने से इन्कार कर दिए हैं। उनकी मांग है कि आरोपितों की गिरफ्तारी होने के बाद ही शव देने की जिद पर देर रात साढ़े नौ बजे तक अड़े हैं। पुलिस अधीक्षक समेत अन्य अधिकारी गांव में जमे हैं।

शाम करीब साढ़े पांच बजे हत्या होने के कुछ ही देर बाद पुलिस पहुंच गई, शव को उठाने के लिए पुलिस ने प्रयास तो किया, लेकिन स्वजन शव ले जाने से मना कर दिए। कई बार पुलिस कर्मियों ने शव लेने का प्रयास किया। लेकिन स्वजन आरोपितों की तत्काल गिरफ्तार, आरोपितों पर गैंगस्टर की कार्रवाई करने व फांसी की सजा दिलाने की मांग करने लगे। देर रात तक शव पुलिस अपने कब्जे में नहीं ले सकी थी। पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक समेत अन्य अधिकारी जमे हुए हैं।