शादी के बाद नकदी और जेवर समेट कर लुटेरी दुल्हन फरार, मामला दर्ज।

 | 
शादी के बाद नकदी और जेवर समेट कर लुटेरी दुल्हन फरार, मामला दर्ज।

सरवन कुमार सिंह की रिपोर्ट


लखनऊ-मड़ियांव क्षेत्र में कारपेेंेंटर  मनोज कुमार शर्मा को पड़ोसी ने उसको शादी कराने के पहले सपने दिखाए। इसके बाद ब्लैकमेल करके रुपये ऐंठता रहा। मनोज के दबाव बनाने पर उसने एक मंदिर में युवती से शादी भी करा दी। कुछ दिन युवती घर के जेवर, नकदी और कपड़े लेकर फरार हो गई। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने लुटेरी दुल्हन और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 
मड़ियांव के ककौली गांव निवासी मनोज कुमार कारपेंटर का काम करते हैं। मनोज ने बताया कि मोहल्ले में रहने वाले संतराम से उनकी अच्छी दोस्ती है। संतराम ने उसकी शादी कराने का झांसा दिया और कहा कि उसके संपर्क में एक अच्छी लड़की है। आरोप है कि शादी का झांसा देकर संतराम उनसे रुपये भी ऐंठता रहा। कई माह बीत जाने के बाद भी जब शादी नहीं कराई तो संतराम पर दबाव बनाना शुरू किया। इसके बाद संतराम उन्हें बस्ती लेकर गया। वहां अंशिका नाम की एक युवती से मिलवाया और एक मंदिर में 17 मार्च को शादी करवा दी। शादी के दौरान मौके पर एक बुजुर्ग महिला और पुरुष भी मौजूद थे। उन्होंने कन्यादान किया उन्हें युवती के माता पिता बताया गया। इसके बाद लड़की विदा होकर घर आई, पर किसी ने यह नहीं बताया कि युवती कहां की रहने वाली है। युवती के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई।
पीड़ित मनोज के मुताबिक सोमवार को जब वह सोकर उठा तो पत्नी अंशिका घर पर नहीं थी। बक्से और अलमारी खुली पड़ी थी। कीमती कपड़े, जेवर और 20 हजार रुपये गायब थे। इसके बाद काफी तलाश के बाद भी अंशिका का कुछ पता नहीं चला। मामले की तहरीर लेकर थाने पहुंचा तो पुलिस ने टरका दिया। इसके बाद अंशिका और उसके अज्ञात बुजुर्ग महिला और पुरुष समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। इंस्पेक्टर मनोज सिंह ने बताया कि युवती और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।