पंकज की दबंगई पुलिस बेनकाब,फर्जी सरकारी ‌ नौकरी का झांसा देकर हो  रहा है पैसों का व्यापार

 | 
पंकज

ब्यूरो चीफ पंकज मणि तिवारी की रिपोर्ट 


सुल्तानपुर , कादीपुर ,   वादी पंकज कुमार सुत लालता प्रसाद और राधेकृष्ण उपाध्याय के बीच पुरानी आबादी को लेकर दीवानी और 145 CRPC का मुकदमा चल रहा है इसी दौरान लड़कियों आरती सुपुत्री राधेकृष्ण उपाध्याय और प्रतिभा सुपुत्री लालता प्रसाद के बीच 145 में लेकर बोई मटर और गोभी के पेड़ को उखाड़ने को लेकर आरती सुपुत्री राधेकृष्ण उपाध्याय से गाली गलौच हुआ और राधेकृष्ण के निजी आवासीय रहन सहन में घर में घुसकर मारपीट की है इतने से मामले को लेकर पंकज सुपुत्र लालता प्रसाद ने पूरे घर परिवार के ऊपर डकैती, घर में घुसकर मारपीट करने जैसे अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दायर किया है जिसका प्राथमिकी रिपोर्ट 0521/2022 है जिसमें परिवार के सात लोगों के ऊपर धारा 395,452,323,504,506 को गैर जमानती अपराध के श्रेणी में रखकर विपक्षी पंकज (कोतवाली कादीपुर अभियुक्त 420 सरकारी नौकरी दिलाने के झांसे का कार्य) के साथ गांव क्षेत्र के आस पास अन्य जिलों में महिलाओं से अभद्र व्यवहार अपने दलाली प्रवृति के स्वभाव के कारण स्थानीय चौकी और कोतवाली थाने से मिलीभगत करके गांव के अधिकतर लोगों को जेल भेज चुका है।
अतः आपसे निवेदन है कि आप इस पर विचार करते हुए फर्जी मुकदमे से परिवार को न्याय संगत  कार्यवाही करके न्याय दिलाने की कृपा करें। 
अभियुक्त राधेकृष्ण 72 उम्र,आरती सुपुत्री राधेकृष्ण, दुर्गाशंकर उम्र 33 वर्ष ,उमाशंकर उम्र 30 वर्ष सुपुत्र राधेकृष्ण उपाध्याय,उर्मिला उम्र 70 पत्नी राधेकृष्ण एवम प्रमोद उम्र 58 साला राधेकृष्ण का नाम फर्जी मुकदमे में दर्ज कराया गया है। 
जो की अभी तक ऑनलाइन नहीं दिखा रहा है।