वाराणसी, कानपुर और लखनऊ कमिश्नरेट का विस्तार बनारस कमिश्नरी में जुड़े इतने  थाने, जानिए योगी कैबिनेट के बड़े फैसले

 | 
लखनऊ

लखनऊ, वाराणसी और कानपुर पुलिस कमिश्नरेट में अब ग्रामीण थाने भी जोड़े गए हैं। योगी सरकार की कैबिनेट बैठक में ये फैसला लिया गया है। योगी कैबिनेट की बैठक में 23 प्रस्ताव पेश किए गए थे, जिनमें से 22 प्रस्ताव को मंत्रिमंडल ने पास कर दिया है।

इनमें यूपी निजी विश्वविद्यालय अधिनियम के तहत गाजियाबाद, फर्रुखाबाद और नोएडा में नई यूनिवर्सिटी स्थापित की जाएंगी। 

योगी कैबिनेट में फैसला लिया गया है कि लखनऊ कमिश्नरेट में 6 ग्रामीण थाने, वाराणसी में 12 ग्रामीण पुलिस थाने और कानपुर में 14 ग्रामीण पुलिस थाने जोड़े गए हैं।

इसके अलावा उत्तर प्रदेश निजी विश्वविद्यालय अधिनियम, 2019 के अंतर्गत गाजियाबाद में एसडीजीआई ग्लोबल विश्वविद्यालय, फर्रुखाबाद में मेजर एसडी सिंह यूनिवर्सिटी और नोएडा में जेएसएस विश्वविद्यालय की स्थापना की जाएगी। 

इसके अलावा सिद्धार्थनगर जिले में सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना से संबंधित नहर निर्माण के लिए सिंचाई विभाग की भूमि उपलब्ध कराने और कनहर सिंचाई परियोजना के अंतर्गत नहर प्रणालियों के लिए आवश्यक 127.1637 हेक्टेयर वन भूमि के बदले 160.7608 हेक्टेयर गैर वन भूमि के हस्तांतरण करने के प्रस्ताव पास किए गए हैं।  

इसके वाराणसी में राजस्व विभाग की जमीन को आवास और शहर नियोजन विभाग को निशुल्क हस्तांतरित किए जाने और बेसिक शिक्षा विभाग के अलावा यूपी डाटा सेंटर नीति 2021 में संशोधन और यूपी सूचना प्रौद्योगिकी स्टार्ट अप नीति 2017 को लेकर प्रस्ताव पास हुए हैं। इसके अलावा यूपी स्टार्टअप नीति 2020 में संशोधन और यूपी औद्योगिक निवेश व रोजगार प्रोत्साहन नीति 2022 को लेकर प्रस्ताव पास हुए हैं।