छोटी बहू अपर्णा यादव को भाजपा देगी बड़ा तोहफा! डिंपल के खिलाफ न उतारने की ये है वजह

 | 
अपर्णा

प्रधान संपादक की रिपोर्ट

लखनऊ-इन दिनों समाजवादी पार्टी  के संस्थापक दिवंगत मुलायम सिंह यादव  की छोटी बहू अपर्णा यादव का नाम खूब चर्चा में है. पहले अपर्णा यादव को मैनपुरी उपचुनाव में सपा प्रत्याशी और मुलायम सिंह यादव की बड़ी बहू डिंपल यादव के खिलाफ बीजेपी  का उम्मीदवार बनाने की बातें चल रही थीं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसकी बड़ी वजह ये है कि बीजेपी अपर्णा यादव को यूपी के नगर निकाय चुनाव में मौका देना चाहती है. खबर है कि अपर्णा यादव को लखनऊ मेयर पद का प्रत्याशी बनाया जा सकता है।

अपर्णा यादव को बीजेपी देगी बड़ा गिफ्ट!

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बीजेपी मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव को लखनऊ की जिम्मेदारी देने के मूड में है. आगामी नगर निकाय चुनाव में अपर्णा यादव के नाम का ऐलान लखनऊ मेयर के उम्मीदवार के रूप में हो सकता है. हालांकि, इसकी अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है.


नगर निकाय चुनाव में बन सकती हैं उम्मीदवार


जान लें कि मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने सपा को छोड़ भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा. हालांकि, बड़े राजनीतिक परिवार से आने के बावजूद यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में उनको विधायक पद का उम्मीदवार नहीं बनाया गया. लखनऊ कैंट से ब्रजेश पाठक को टिकट दे दिया गया. इसके बाद चर्चा चली कि अपर्णा यादव को राज्यसभा भेजा जा सकता है, लेकिन ऐसा भी नहीं हुआ. हालांकि, मैनपुरी उपचुनाव में भी प्रत्याशी नहीं बनाए जाने के बाद नगर निकाय चुनाव से पहले उनको उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चा जोरों पर है।
 

डिंपल के खिलाफ अपर्णा को टिकट क्यों नहीं?

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बीजेपी मैनपुरी उपचुनाव में यादव Vs यादव की लड़ाई नहीं चाहती थी. इसीलिए बीजेपी ने सपा प्रत्याशी डिंपल यादव के सामने अपर्णा यादव को अपना उम्मीदवार नहीं बनाया. बीजेपी ने मैनपुरी उपचुनाव के लिए पूर्व सांसद रघुराज शाक्य को प्रत्याशी बनाया है।