आखिर डिंपल यादव को कौन देगा टक्कर, भाजपा ने  अभी तक नहीं खोले पत्ते 

 | 
डिंपल

प्रधान संपादक की रिपोर्ट


लखनऊ-मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई मैनपुरी सीट पर उपचुनाव को लेकर सपा ने डिंपल यादव को मैदान में उतारकर स्थिति साफ कर दी है, लेकिन भाजपा ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं। डिंपल यादव को चुनावी मैदान में कौन टक्कर देगा इसका लोगों को बेसब्री से इंतजार है। दो बार कन्नौज से सांसद रहीं डिंपल के सामने भाजपा टिकाऊ उम्मीदवार की तलाश में जुटी है। हालांकि सियासी गलियारों में अपर्णा यादव से लेकर केशव प्रसाद मौर्य तक का नाम चल रहा है लेकिन अब अभी केवल अफवाह की साबित हुई है।

पार्टी ने अभी किसी के नाम पर खोलकर मुहर नहीं लगाई है। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि डिंपल यादव के सामने भाजपा मजबूत प्रत्याशी को ही चुनावी मैदान में उतारेगी। भगवा खेमे से यह बात निकलकर सामने आई है। उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी कौन बनेगा, यह जानने के लिए शुक्रवार को लोक बेसब्री से इंतजार करते नजर आए। हालांकि भगवा खेमे में प्रत्याशी को लेकर गंभीर मंथन चल रहा है। एक दिन पूर्व मैनपुरी में भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से जुड़े पदाधिकारियों ने बैठक ली और प्रत्याशियों के नाम पर बात की गई। हालांकि ये बता दिया गया कि कार्यकर्ता और नेता ये मानकर चलें कि प्रत्याशी कोई भी हो, कमल चुनाव चिह्न को ध्यान में रखकर जनता के बीच जाएं।
उधर गुरुवार को लखनऊ में भाजपा कोर कमेटी की बैठक पर भी भाजपा के लोगों की निगाहें लगी रही। इस बैठक के लिए भी मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव के लिए पार्टी प्रत्याशी के नाम पर मंथन हुआ है। कहा यह भी गया है कि कोर कमेटी ने प्रत्याशी का नाम फाइनल कर लिया है। बहुत जल्द प्रत्याशी के नाम की घोषणा पार्टी कर देगी।