शायर व लेखक शादाब जफर शादाब 19 जनवरी को होंगे सम्मानित

कार्यालय संवाददाता बिजनौर । नजीबाबाद के मशहूर शायर,पत्रकार राष्ट्रीय युवा कवि सम्मान व देश की कई संस्थाओ द़ारा अपने लेखन व शायरी के लिये सम्मानित शायर व साहित्यकार शादाब ज़फ़र को जयपुर मै अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक व सामाजिक संस्था एन.आर.बी.फाउंडेशन और भव्या इंटरनेशनल द़ारा विविधता में एकता राष्ट्रीय सम्मान -2020 और अंतर्राष्ट्रीय मैत्री सम्मान-2020 के लिये
 | 
शायर व लेखक शादाब जफर शादाब 19 जनवरी को होंगे सम्मानित

कार्यालय संवाददाता 

बिजनौर । नजीबाबाद के मशहूर  शायर,पत्रकार राष्ट्रीय युवा कवि सम्मान व देश की कई संस्थाओ द़ारा अपने लेखन व शायरी के लिये सम्मानित शायर व साहित्यकार शादाब ज़फ़र को जयपुर मै अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक व सामाजिक संस्था एन.आर.बी.फाउंडेशन और भव्या इंटरनेशनल द़ारा विविधता में एकता राष्ट्रीय सम्मान -2020 और अंतर्राष्ट्रीय मैत्री सम्मान-2020 के लिये पूरे विश्व से चयनित 30 हिन्दी कविता,उर्दू शायरी व हिन्दी पत्रकारिता सम्मान के लिये सम्मानित होने वाले व्यक्तियो मै शामिल किया गया है.शादाब ज़फर शादाब को ये सम्मान जयपुर राजस्थान मै आयोजित एक भव्य कार्यक्रम मै संस्था द़ारा प्रदान किया जायेगा.संस्था की कार्यक्रम संयोजक व महासचिव डा.निशा माथुर ने शादाब ज़फ़र शादाब को ये जानकारी दी.
शायर और पत्रकार शादाब जफर ‘‘शादाब’’ आज किसी परिचय के मोहताज नही है  इन्टरनेट व वैब मीडिया के जरिये आज अतंराष्ट्रीय स्तर पर अपनी मजबूत पहचान बना चुके शादाब ज़फ़र ने वैब पोर्टल प्रवक्ता.काम , हमारी वाणी, साहित्यिकी ,नुक्कड, रविवार,चौथी दुनिया व आस्ट्रेलिया से प्रकाशित हिन्दी साहित्यिक पत्रिका हिन्दी गौरव के जरिये कनाड़ा, न्यूयार्क, सिडनी, अमेरिका के हिन्दी भाषी  पाठको के बीच अपनी और अपने कलम की खास पहचान बना ली है। ये ही वजह है कि आज शादाब जफर‘‘शादाब’’ के कलम की खुश्बू हिन्दुस्तान कि सरहद के बाहर अमेरिका, आस्ट्रेलिया, दुबई, कनाडा सऊदी अरब आदि तमाम देशो में फैल चुकी है।

शायर व लेखक शादाब जफर शादाब 19 जनवरी को होंगे सम्मानित
शादाब जफर ‘‘शादाब’’ लगभग 30 वर्ष से अपनी निष्पक्ष पत्रकारिता व शायरी के क्षेत्र में देश विदेश में जाने पहचाने जाते है। वही इन के द्वारा लिखी पुस्तक “शिक्षक दिवस ” दिल्ली के प्राईमरी विधालयो के बच्चो में खूब लोकप्रिय हुई है। टीवी चैनलर्स, रेडियो और आल इन्डिया मुशायरो में आप को देखा और सुना जाता है। शादाब को बालकन जी बारी इन्टरनेशनल द्वारा ‘‘राष्ट्रीय युवा कवि पुरस्कार’’ व जैमिनी अकादमी पंजाब द्वारा ‘‘आचार्य’’ की उपाधि से सम्मानित किया जा चुका है। आपने खुशबू नाम से अंतरराष्ट्रीय काव्य संग्रह का सम्पादन भी किया है। आप के द्वारा कही गई ग़ज़लो का एक गजल संग्रह ‘‘फूल सा चेहरा’’ शीर्षक से देश में काफी प्रसिद्व हुआ है। वही ‘‘चॉद सा चेहरा’’ ग़ज़ल संग्रह व देश के विभिन्न समाचार पत्रो में प्रकाशित शादाब के 100 लेखो का एक संस्करण ‘‘काला सूरज’’ शीर्षक से शीघ्र प्रकाशित होने वाला है।
वर्तमान मै नजीबाबाद से प्रकाशित ‘‘नजीब टाईम्स’’ हिन्दी मासिक समाचार पत्रिका के आप संयुक्त संपादक है।