शादी से चंद घंटों पहले ही करंट लगने से दूल्हे की मौत

ब्रेकिंग शादाब जफर की रिपोर्ट बिजनौर नगीना। मातम मे बदली खुशियां शादी से चंद घंटों पहले ही बाथरूम में नहाने गए दूल्हे की गीजर के करेंट लगने से दर्दनाक मौत हो जाने से वर व वधु पक्ष के परिवारों में कोहराम मच गया और पूरे काजी सराय मोहल्ले में मातम पसर गया, क्योंकि दोनों के
 | 
शादी से चंद घंटों पहले ही करंट लगने से दूल्हे की मौत

ब्रेकिंग

शादाब जफर की रिपोर्ट 

बिजनौर नगीना।   मातम मे बदली खुशियां शादी से चंद घंटों पहले ही बाथरूम में नहाने गए दूल्हे की गीजर के करेंट लगने से दर्दनाक मौत हो जाने से वर व वधु पक्ष के परिवारों में कोहराम मच गया और पूरे काजी सराय मोहल्ले में मातम पसर गया, क्योंकि दोनों के घर चंद कदम की दूरी पर हैं।
मोहल्ला काज़ी सराय निवासी हैंडीक्राफ्ट कारोबारी शेख अंजार की बेटी की शादी मोहल्ले के ही आरामशीन कारोबारी इतफाल अहमद के युवा पुत्र अब्दुल्ला के साथ तय हुई थी।धामपुर रोड स्थित एक मैरिज हॉल स्वस्तिक गार्डन में विवाह समारोह की भव्य तैयारियां पूरी हो चुकी थी।कन्या पक्ष के लोग मैरिज हॉल में पहुंच चुके थे।आज रविवार की रात में ही निकाह होना था। शाम छह बजे बारात जानी थी। शाम करीब 4:30 बजे दूल्हा अब्दुल्ला तैयार होने से पूर्व नहाने के लिए बाथरूम में गया, लेकिन जब एक घंटे तक भी अब्दुल्ला बाथरूम से नहीं निकला तो परिजनों ने बाथरूम का दरवाजा खटखटाया लेकिन कोई जवाब नहीं मिलने पर दरवाजा तोड़कर खोला गया तो अब्दुल्ला फर्श पर अर्धनग्न अवस्था में मूर्छित हालत में पड़ा था। आनन-फानन में परिजन व मोहल्ले के लोग अब्दुल्ला को पहले सीएचसी लाए और फिर गांधी मूर्ति के निकट एक प्राइवेट चिकित्सक डॉ अशोक गुप्ता के क्लीनिक पर लाए। मोहल्ले के सैकड़ों लोग क्लीनिक के बाहर सड़क पर खड़े होकर अब्दुल्ला की सलामती की दुआएं मांग रहे थे लेकिन डॉ अशोक गुप्ता ने थोड़ी देर बाद ही अब्दुल्ला को मृत घोषित कर दिया। डॉक्टर का अनुमान है कि अब्दुल्ला की मौत गीजर का करेंट लगने से हुई है।अब्दुल्ला की मौत की खबर से दोनों परिवारों में कोहराम मच गया और पूरे मोहल्ले में मातम छा गया। उधर धामपुर रोड स्थित मैरिज गार्डन में भी शादी की खुशियां मातम में बदल गई और कन्या पक्ष के सभी लोग भी वापस घर आ गए। मृतक अब्दुल्ला अपनी चार बहनों का इकलौता भाई था। अब्दुल्ला के मां-बाप तथा बहनों का रो रो कर बुरा हाल है।इतफाल अहमद के घर पर सैकड़ों की संख्या में लोग जमा हैं और सभी की आंखें नम हैं।