ससुरालवालों के उत्पीड़न से तंग आकर विवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान..

 | 
ससुरालवालों के उत्पीड़न से तंग आकर विवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान..

मुजफ्फरनगर। किसी को मरता हुआ देखकर दुश्मन का भी दिल भी पसीज जाता है, लेकिन यह घटना यह बताने के लिए काफी है कि आज भी हैवानों की कमी नहीं है। दरअसल, ससुरालियों के उत्पीड़न से तंग आकर एक विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसे बचाने के बजाए सुसराल वाले वीडियो बनाते रहे। विवाहिता का दम निकलने के बाद ही उनके कैमरे बंद हुए। आत्महत्या का यह वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है। मायकेवालों ने ससुरालियों पर दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने पुलिस प्रशासन को सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

यह है मामला

शाहपुर थाना क्षेत्र के पलड़ी गांव निवासी अनिल की पुत्री कोमल की शादी दो वर्ष पूर्व छपार थाना क्षेत्र के दत्तियाना गांव निवासी आशीष पुत्र देवेंद्र से हुई थी। मायकेवालों के मुताबिक शादी के बाद से ही दहेज की मांग को लेकर ससुरालियों ने कोमल के साथ मारपीट शुरू कर दी थी। छह माह पहले उसे ससुरालियों ने घर से निकाल दिया था, लेकिन रिश्तेदारों ने समझाबुझाकर कोमल को वापस ससुराल भिजवा दिया था। आरोप है कि कुछ समय बाद पति व सास ने फिर से मारपीट शुरू कर दी। रविवार को विवाहिता ने उत्पीडऩ से तंग आकर खुद को कमरे में बंद कर अपने दुपट्टे से पंखे से लटककर फांसी लगा ली। यहां से शुरू होता है दिल दहला देने वाला दृश्य। वीडियो में साफ दिख रहा है कि उसने गले में चुन्नी बांधी, फिर कुछ सोचा, गले में फंदे में गांठ लगाई और लटक गई। ससुराली चाहते तो दरवाजा या खिड़की तोड़कर उसकी जान बचा सकते थे, लेकिन उन्होंने ऐसा करने के बजाए खिड़की से उसकी लाइव वीडियो बनाना ज्यादा जरूरी समझा। शायद जब उन्हें यकीन हो गया कि अब कोमल का दम निकल चुका है, तब अपने मोबाइल के कैमरे बंद किए और दरवाजा तोड़कर शव को नीचे उतारा। बाद में पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मायकेवालों ने पति समेत तीन के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। एसएसपी ने बताया कि सास-ससुर को गिरफ्तार कर लिया है। पति की तलाश में टीम दबिश दे रही है। कड़ी कार्रवाई की जा रही है।