भीड़-भाड़ से बचने 45 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले 30 तारीख तक लगवा लें पहला टीका।

 | 

जागेशवर प्रसाद वर्मा कि रिपोर्ट 

बलौदाबाजार- जिले में  कोविड टीकाकरण अभियान के अंतर्गत 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लगभग 60.16 प्रतिशत लोगों को कोरोना का पहला टीका लगाया जा चुका है। यह काम जिले में पहली अप्रैल से शुरू हुआ है। कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने भीड़-भाड़ से बचने के लिए 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों से 30 अप्रैल तक कोरोना का पहला टीका लगवा लेने की अपील की हैं। 
          कलेक्टर श्री जैन ने कहा है कि जिले में चूंकि 1 मई से 18 वर्ष से ज्यादा उम्र वालों का भी टीका लगाने का काम शुरू हो जायेगा। इसलिए केन्द्रों पर भीड़ जमा हो सकती है, और लोगों को इंतज़ार करना पड़ सकता है। फिलहाल जिले की सभी प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर ये टीके प्रतिदिन लगाए जा रहे है। टीके का कोई दाम नहीं है। पूर्णतः निःशुल्क उपलब्ध हो रहा है। अभी तक स्वास्थ्य एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के वर्करों को 89 प्रतिशत,  फ्रंट लाइन वर्कर वाले विभागों के कर्मचारियों के 91 प्रतिशत और 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के 60.16 प्रतिशत लोगों को टीका लगाए जा चुके हैं।  जिले में 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के 1 लाख 74 हज़ार से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। लेकिन इनमें से एक कि भी टीका के कारण अनहोनी की कोई सूचना नहीं है। 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के 2.88 लाख लोगों को जिले में टीका लगाने का लक्ष्य है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित है। बड़े-बड़े वैज्ञानिकों द्वारा काफी खोजबीन और मेहनत टीका एक मानवीय उपलब्धि के रूप में सामने आया है। यदि इसमें कोई खोट होती तो सरकार खुद इसे नहीं लगती। यह बड़े काम का है। स्वास्थ्य विभाग की अच्छी तरह से प्रशिक्षित नर्सों द्वारा इसे लगाया जाता है। इसके कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं हैं। हल्का बुखार किसी-किसी को हो सकता है, जिसके लिए भी दवाई मुफ्त में दी जाती है। 
        कलेक्टर  जैन ने बताया कि 1 मई से 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों के भी टीकाकरण शुरू हो जाएंगे। इसके लिए राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप जिले की कार्य-योजना तैयार कर ली गई है। कलेक्टर ने 30 अप्रैल तक के टीकाकरण अभियान की गति बढ़ाने के निर्देश भी  दिए हैं। उन्होने  कहा कि कोरोना से बचाव का यह महत्वपूर्ण एवं रामबाण उपाय है। इसलिए हर पात्र व्यक्ति को टीके  अवश्य लगा लेने चाहिए। टीकाकरण से काफी हद तक महामारी को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। लोगों को बचाना और उनकी  जीवन रक्षा बहुत जरूरी है। उन्होंने जिले की 45 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले हर व्यक्ति को अपने नजदीक स्वास्थ्य केंद्रों पर पहुंचकर टीका लगवा लेने का अनुरोध किया है। उन्होंने अफसरों, जनप्रतिनिधियो, मीडियाकर्मियों, और समाजसेवी संस्थाओं को लोगों को इसके लिए प्रेरित करने का भी आग्रह किया है। कलेक्टर ने कहा कि इस दौर में टीकाकरण ही है, जो बचाव के लिए  कवच का काम करेगा। अफवाहों से दूर रहकर टीका जरूर लगवाएं। केन्द्रों पर टीके की कोई कमी नहीं है। पर्याप्त मात्रा में स्टॉक मौजूद है।