30 अप्रैल बंगाल विधानसभा चुनाव से सीआईएसएफ चार कंपनी बोकारो अप्रैल को पहुंच रही है

 | 
30 अप्रैल बंगाल विधानसभा चुनाव से सीआईएसएफ चार कंपनी बोकारो अप्रैल को पहुंच रही है

बोकारो से शेखर की रिपोर्ट

बोकारो में करोना कि मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच एक और चुनौती यहां की चिकित्सा के पास आने वाली है सीआईएसएफ के 6 कंपनी बीएसएल बोकारो इकाई में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में गई छह कंपनी में से चार कंपनी 30 अप्रैल को यहां पहुंच रही है सीआईएसएफ जवान व अधिकारियों के करोना पॉजिटिव होने की से इनकार नहीं किया जा सकता हालांकि जब सदस्य की बोकारो आने से पूर्व ही पहले पूरी तरह से सजग हो गया है बीएसएल की सेक्टर 8 सेक्टर 9 विद्यालय में 6 दिनों के लिए कोरों टाइम किया जाएगा इसके बाद भी जिला प्रशासन के सहयोग से विद्यालय में करोना जांच के लिए शिविर की व्यवस्था की जाएगी अगर कोई जवान संक्रमित मिलता है तो उसे कोविड वार्ड भेजा जाएगा उनके खाने-पीने का सारा इंतजाम सीआईएसएफ मेस की ओर से क्वारंटाइन सेंटर में ही होगा सीआईएसएफ के कोई भी जवान को कोरंटिन सेंटर को छोड़ने की इजाजत नहीं दी गई है और ना कहीं घूमते फिरते नजर आए तो उन पर विभागीय कार्रवाई का प्रावधान भी किया गया है अरे 500 जवान की होगी वापसी एक कंपनी में अनुमान 92 अधिकारी का बल सदस्य शामिल रहते हैं डेढ़ से दो माह की लंबी अवधि तक चुनाव ड्यूटी पर गए अधिकारी बल सदस्य को 29 अप्रैल के अंतिम चरण के चुनाव के बाद वापस बोकारो लौटने का निर्देश दिया गया है जबकि दो कंपनी 2 मई को मतगणना के बाद यहां आएगी सीआईएसएफ के बोकारो निकाय के उप कमांडेंट कोविड-19 नोडल पदाधिकारी भूपिंदर सिंह ने दावा किया है कि चुनाव ड्यूटी पर जाने से पूर्व सभी जवान को करो ना व्यक्तियों की दोनों ढोज दे दी गई है ऐसे में उनकी वापसी पर संक्रमण की संभावना काफी हद तक कम होगी जबकि सीआईएसएफ भी अपनी ओर से रखरखाव की पूरी तैयारी कर ली है