खाद आपूर्ति विभाग के सचिव ने कहा राशन लाभुकों अब ओटीपी के माध्यम से राशन देने का निर्देश दिया गया है

 | 
खाद आपूर्ति विभाग के सचिव ने कहा राशन लाभुकों अब ओटीपी के माध्यम से राशन देने का निर्देश दिया गया है

 संगीता दास की रिपोर्ट

रोंना महामारी को देखते हुए झारखंड के 57लाख परिवार को अब बगैर बायोमेट्रिक और आंखों की पुतली की सत्यापन के बिना राशन दिया जाएगा। लाखों राशन कार्डों को अब ओटीपी के माध्यम से राशन देने का निर्देश दिया गया है अब आपूर्ति विभाग के सचिव डॉ शांतनु कुमार ने अधिसूचना जारी करते हुए कहा है कि बिना ओटीपी के राशन देने पर आपूर्ति पदाधिकारी के ऊपर कार्रवाई की जाएगी उन्होंने कहा है कारोंना के बढ़ते संक्रमण को देखने के बाद विभाग के बायोमेट्रिक सिस्टम पूरी तरह से बंद कर दिया है 21 मई तक बंद जारी रहेगी मालूम हो कि अभी राशन लाभुकों को बायोमेट्रिक सिस्टम के अंगूठे का निशान लगाना पड़ता था और और सत्यापन होने के बाद उन्हें राशन मिलता था दोनों ही स्थिति में अब संक्रमण फैलने का डर है कैसी होगी नई व्यवस्था राशन कार्ड धारी  कार्ड नंबर ईपास मशीन में डालने के बाद ओटीपी के लिए सिक्स स्टैंडर्ड डिजिटल 1234 अंकित करेंगे जिसके बाद लाभको के मोबाइल पर ओटीपी आएगा जिसके बाद लाभुकों को राशन देने के बाद डिलर उसका हस्ताक्षर लेंगे यदि डिलर ओटीपी के माध्यम से किसी लोगों को राशन नहीं देता है और सिर्फ असत्य करता है इसकी जिम्मेदारी जिला आपूर्ति पदाधिकारी की होगी वह 3 दिनों के अंदर आहार पोर्टल पर उसके अपलोड करें