1 लाख 18 हजार मि.ली. अंग्रेजी और 45 हजार मि.ली. देसी शराब पकड़ी

विष्णुदेव की रिपोर्ट बंगाणा: आबकारी विभाग ने बंगाणा उपमंडल के विभिन्न इलाकों में शराब दुकानों को सील किया गया। वहीं पुलिस ने अवैध रूप से ब्लैक में बेची जाने वाली शराब तस्करों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। लॉकडाउन में शराब दुकानेंबंद होने के बावजूद दुकानों से शराब की ब्रिकी की सूचनाएं प्रशासन को
 | 
1 लाख 18 हजार मि.ली. अंग्रेजी और 45 हजार मि.ली. देसी शराब पकड़ी

विष्णुदेव की रिपोर्ट

बंगाणा: आबकारी विभाग ने बंगाणा उपमंडल के विभिन्न इलाकों में शराब दुकानों को सील किया गया। वहीं पुलिस ने अवैध रूप से ब्लैक में बेची जाने वाली शराब तस्करों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। लॉकडाउन में शराब दुकानेंबंद होने के बावजूद दुकानों से शराब की ब्रिकी की सूचनाएं प्रशासन को मिल रही थी पर पुख्ता सबूत न होने के चलते कार्रवाई नहीं हो पा रही थी। इसको संज्ञान में लेते हुए आबकारी विभाग की ओर से उक्त कार्रवाई की गई। विभाग का कहना है कि लॉकडाउन के दौरान शराब की बिक्री बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पुलिस जहां सोशिल डिस्टैंस को कायम रखने में डटी हुई है और साथ ही अब अवैध रूप में शराब बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई में जुट गई है। इसी तहत रायपुर मैदान, डोहगी और त्यार गांव में भी शराब पकड़ कर एक सफलता हासिल की बंगाणा के तहत त्यार गांव में शराब की बड़ी खेप पकड़ी है।
क्षेत्र में डबल रेट पर हो रही थी सप्लाई:
ठेके बंद होने के कारण अवैध शराब बेचने वाले चांदी कूट रहे हैं। ठेके से कई गुना ज्यादा रेट से शराब की सप्लाई की जा रही है। अंग्रेजी की सप्लाई कम होने के कारण ही देसी की सप्लाई बढ़ गई है। पुलिस ने इन अवैध शराब बेचने वालों पर कार्रवाई करना शुरू कर दी है। थाना बंगाणा के तहत पुलिस ने त्यार गांव में शराब की बड़ी खेप जोगिन्द्र पाल के घर से बरामद की है।