मितानिनों से अब घर बैठे मिलेंगी कोरोना की निःशुल्क दवाइयां

 | 
मितानिनों से अब घर बैठे मिलेंगी कोरोना की निःशुल्क दवाइयां

कस्तुरी साहू बलोदा बाजार

बलौदाबाजार-शहरों एवं ग्रामीण अंचलों में रहने वाले लोगों में कोरोना के लक्षण दिखतें अथवा संक्रमित के सम्पर्क में आने पर अब उन्हें घर बैठे ही मितानिनों के माध्यम से कोरोना की निःशुल्क दवाइयां उपलब्ध करायी जायेगी। समय पर दवाई मिल जाने से मरीजों की स्थिती गंभीर नही होगी। जांच के पहले ही दवाइयां लक्षण वाले व्यक्तियों को देनें के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा आदेश जारी हो चुका हैं। स्वास्थ्य विभाग ने जिले भर के मितानिनों को कोरोना संक्रमण की दवाइयां का पैकेट वितरण  भी कर दिया हैं। शहर एवं ग्रामीण अंचलों में कोरोना के लक्षण दिखाई देने के बाद भी कई लोग कोरोना जांच नही कराते है एवं झोलाछाप, अपंजीकृत डॉक्टरों के सम्पर्क में आकर अनाप शनाप दवाइयों का सेवन कर संक्रमण को बढ़ाने के बाद गंभीर हालत में ऐसे लोग अस्पताल पहुँचते है, जो परिवार और अन्य लोगों में संक्रमण फैला चुके होते है। क्योंकि इन लोगों को समय पर कोरोना की दवाइयां नही मिलने के कारण यह स्थिती बनती है। जिसके लापरवाही के चलते अनके लोगों को अपनी जान गवानी पड़ी हैं। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने आज राज्य शासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश देतें हुए प्रत्येक घर तक मितानिनों के माध्यम से प्रोफाइलेक्टिक दवाइयों को पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए जिला के सभी मेडिकल अधिकारियों, मितानिनों एवं एएनएम, ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजकों को निर्देश जारी कर दी गयी है।
*कलेक्टर ने की अपील* कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने सभी जिला वासियों से अपील की है की कोरोना के लक्षण दिखने अथवा संक्रमित के सम्पर्क में आने पर वह मितानिनों के माध्यम से कोरोना की निःशुल्क दवाइयां प्राप्त कर सकते है। वही मितानिनों और एएनएम के पास दवाइयां नही मिलने पर अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों में जाकर दवाई प्राप्त कर सकतें हैं। इसके साथ ही 45  वर्ष से अधिक उम्र के लोग अनिवार्य रूप से टीकाकारण कराये। कोरोना वैक्सीन का टीकाकारण सम्बंधित अपवाहों एवं भ्रांतियों से बचें। टीकाकरण कोरोना से बचाव के कवच के समान है। अंत आप सभी पात्रधारी अनिवार्य रूप से अपने नजदीकी वैक्सिन सेंटर में जाकर टीका अवश्य लगवाएं।

*लोगों में आएगी जागरूकता- डॉ सोनवानी*
जिला मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने बताया की प्रोफाइलेक्टिक दवाइयों का वितरण बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने कारगर उपाय हैं। आज डरे हुए लोग कोरोना के लक्षण को छुपा कर सही दवाई नहीं ले रहें है। ऐसे में यह संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। अब कोरोना की दवाइयां मितानिनों के पास मिलने से लक्षण वाले लोग सीधे दवाई ले सकते है या उनके पास से मंगा सकतें है। इससे ग्रामीणों में भी जागरूकता बढ़ेगी। लोग एक दूसरे में लक्षण दिखते ही मितानिनों के पास जाकर दवाई खाने के लिए प्रेरित  करेंगे। इससे  कोरोना का संक्रमण कम होंगे। वही मितानिनों और एएनएम के पास दवाइयां नही मिलने पर अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों में जाकर दवाई प्राप्त कर सकतें हैं। इसके लिए कोरोना जांच कराने की जरूरत नही पड़ेगी।