मिनी लॉकडाउन का बोकारो जिले में दिखा असर

 | 
मिनी लॉकडाउन का बोकारो जिले में दिखा असर

 संगीता की रिपोर्ट

मिनी लॉकडाउन को लेकर जिला प्रशासन ने गुरुवार से करवाई शुरू कर दी है। जिस कारण दोपहर 3 बजते ही बाजार में सन्नाटा पसर जाता है।कोविड संक्रमण को देखते हुए 2 बजे से ही दुकानों के शटर गिरने शुरू हो गये थे।सिवनडीह,रितुडीह,सोनाटांड सहित अन्य स्थानों पर दुकानें बंद होने से पहले ही लोगों ने सामान की खरीदारी कर ली थी। वहीं, इस बार नया मोड़ व उसके आस-पास के क्षेत्रों में फल दुकानों को बंद कराया गया। जिस वजह से रोजा रखने वाले लोगों को परेशानी उठानी पड़ी।उकरीद के उमर अंसारी ने बताया कि रमजान माह में इफ्तारी व सेहरी के लिए फलों की जरूरत पड़ती है। उम्मीद थी कि शाम तक दुकानें खुली रहेगी। लेकिन 2  बजे ही सभी दुकानें बंद हो गई। शुक्रवार सुबह सुबह ही फलों की खरीदारी करनी पड़ी। तीन बजे के बाद घरों से निकलने की हो गई  मनाही : कोविड के मामले जिस प्रकार से बढ़ रहे हैं, उसे देखते हुए गुरुवार को अधिकांश लोग स्वत: घर में ही रहें।शाम 3 बजे के बाद स्थिति पूरी तरह से बदली बदली दिखी।कोरोना के चेन को तोड़ने के लिए लोगों ने घर में ही रहना पसंद किया। सेक्टर 12 मोड़ के समीप पुलिस प्रशासन की ओर से लोगों को सड़क पर वाहन न चलाने की हिदायत दी गई।