मालखरौदा परियोजना अधिकारी नहीं दे पाए शिकायत कॉपी 6 महीना बाद भी

 | 
छत्तीसगढ़

मालखरौदा परियोजना अधिकारी के पास अब सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत जानकारी नहीं दिया जा रहा है जिससे आम जनता को काफी दिक्कत हो रहा है,जांजगीर चांपा जिले के मालखरौदा में लगातार सूचना के अधिकार अधिनियम का खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है जिसपर अंकुश सूचना आयोग नहीं लगा पा रहे हैं। 

दरअसल पूरा मामला जनसूचना अधिकारी परियोजना अधिकारी का है जो कि28/11/2020 को सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत जानकारी मांगी गई थी कि मालखरौदा के जनसूचना अधिकारी परियोजना कार्यालय में एक साल में हुए सभी शिकायतों की कॉपी को मांगी गई थी मगर यहां पर भी जनसूचना अधिकारी के द्वारा लापरवाही बरतने का मामला सामने आया है 5 महीने से आज कल बोल के आवेदक कर्ता को घुमाया जा रहा है,इससे यह साफ जाहिर होता है कि इस कार्यालय में सभी फाइलों को किस प्रकार से रखा जाता होगा। 

मालखरौदा परियोजना अधिकारी का कहना है कि शिकायत शाखा प्रभारी शिवशंकर ग्वाला का मृत्यु हो गया है इसका हवाला दिया जा रहा है जिसमें  लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं कि ऑफिस का फाइल को क्या जिम्मेदार अधिकारी अपने घर लेकर जाते थे और क्या कारण है जो 5 से 6 महीने बीत जाने के बाद भी जानकारी नहीं दे पा रहे हैं।