राजधानी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल पर बड़ी कार्रवाई, संचालक मंडल के दो सदस्य गिरफ्तार

 | 
छत्तीसगढ़

रेशम वर्मा कि रिपोर्ट 

रायपुर-राजधानी रायपुर के कथित सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में हुए अग्निकांड के मामले में अस्पताल संचालक मंडल के दो डॉक्टरों को गैर इरादतन हत्या के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है। बीते दिनों राजधानी सुपर स्पेशलिस्ट अस्पताल में भयंकर आग लगी थी जिसमें झुलस कर कई लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बारीकी से अध्ययन कर सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए थे।

राजधानी सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल अग्निकांड में सात कोरोना मरीजों की मौत के मामले की जांच रसूखदारों के दबाव में ठप पड़ गई थी। कलेक्टर के आदेश के बाद भी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अब तक जांच शुरू नहीं की। तब मुख्यमंत्री को हस्तक्षेप करना पड़ा। इस गंभीर प्रकरण में फायर सेफ्टी, बिजली विभाग, एफएसएल और टिकरापारा थाना पुलिस ने हादसे के बाद सीलबंद किए अस्पताल को खोलकर जांच की थी, जिसके बाद अब यह कार्रवाई की गई है।

बताया जा रहा है कि जिन दो डॉक्टरों को गिरफ्तार किया गया है उनमें डॉक्टर सचिन मल और अरविंदो राय हैं। यह दोनों ही अस्पताल संचालक मंडल के प्रमुख सदस्य हैं।

बताया जा रहा है कि अस्पताल प्रबंधन ने अवैध रूप से तीसरे माले का निर्माण किया था। वहीं, अस्पताल के पास 2016 के बाद से कोई भी फायर सेफ्टी एनओसी नहीं था। प्रबंधन के पास फायर सेफ्टी का कोई भी दस्तावेज नहीं मिला। बता दें कि इस बात का खुलासा फायर सेफ्टी विभाग की जांच में हुआ है।

इस गिरफ्तारी से पीड़ितों को किस तरह से न्याय मिलेगा, फिलहाल इस बात को लेकर कुछ भी नहीं कहा जा सकता।