न्यायालय परिसर में न्यायिक कार्य 72 घंटे तक कार्य पर रोक लगा दी गई 

 | 
न्यायालय परिसर में न्यायिक कार्य 72 घंटे तक कार्य पर रोक लगा दी गई

मोहित गुप्ता की रिपोर्ट

हरदोई- जनपद के  विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव अलका पाण्डेय ने बताया है कि जनपद न्यायालय के प्रागंण में जनपद न्यायाधीश के निर्देशन में 23 अप्रैल 2021 को तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की कोविड-19 की जांच हेतु शिविर लगाया गया जिसमें प्रमोद कुमार पाण्डेय, रामआसरे, अमित कुमार रस्तोगी, वर्तमान  कार्यरत परिवार न्यायालय विपिन कुमार, संजीव कुमार त्रिपाठी तथा अनूप कुमार कोरोना पॉजटिव पाये गये है, जिससे न्यायालय परिसर में कोरोना संक्रमण फैलने की सम्भावना व्यक्त की गयी है।
उन्होने कहा कि इस संबंध में कमेटी की अध्यक्षता कर रहे अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश संजीव कुमार तथा कमेटी ने 26 एवं 27 अप्रैल 2021 को न्यायालय बन्द कराने की अनुमति की गयी और जिसका संज्ञान लेते हुए जनपद न्यायाधीश श्री विनोद कुमार ने न्यायालय कार्यालय बन्द करके सम्पूर्ण न्यायालय परिसर में सैनिटाइजेशन कराने के निर्देश दिये है, इस प्रकार न्यायालय परिसर में न्यायिक कार्य 72 घंटे के बाद प्रारम्भ किये जायेगें और पॉजटिव पाये गये कर्मचारियों को निर्देशित किया गया है कि स्वयं को 14 दिनों के लिए होम आईसोलेशन में रखना सुनिश्चित करें। सचिव ने बताया कि घोषित अवकाश के दिनों में सत्र न्यायालयों का रिमाण्ड कार्य हेतु जनपद न्यायाधीश ने अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश कोर्ट नंबर 16 पॉस्को अनिल कुमार को अधिकृत किया है तथा मजिस्ट्रेट न्यायालयों में रिमाण्ड कार्य हेतु न्यायायिक मजिस्ट्रेट द्वितीय को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा अधिकृत किया गया है।