डॉक्टरों को भी दी दो टूक चेतावनी देते हुए सीएम ने कहा कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेंगे

 | 
डॉक्टरों को भी दी दो टूक चेतावनी देते हुए सीएम ने कहा कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेंगे

शेखर की रिपोर्ट

झारखंड-मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए हाई लेवल बैठक की. सीएम ने मीटिंग के बाद लॉकडाउन की अटकलों को सिरे से खारिज कर दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण की समस्या को रोकने के लिए लॉक डाउन समाधान नहीं है. इससे कई अन्य समस्याएं खड़ी हो जाएंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि कल भी संक्रमण को रोकने के उद्देश्य से बड़ी बैठक बुलाई गयी है. इसमें राज्य में होने वाली परीक्षाओ को लेकर अहम निर्णय लिया जायेगा. सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार ने जैसे सीबीएससी की परीक्षाओ को स्थगित करने का कार्य किया है. उसकी समीक्षा कर हमें भी झारखंड अकादमिक कॉउंसिल के दसवीं और बारवी की परीक्षाओ को लेकर निर्णय लेना होगा. 

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस दौरान रांची समेत पूरे राज्य में स्वास्थ सेवाओं को और मजबूत करने पर जोर दिया है. रांची ,जमशेदपुर, गुमला, साहेबगंज में सांसद फंड से बन रहे लैब को सरकार राशि देगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि रिम्स के अंदर 110 नए आईसीयू तैयार किये जाएंगे. 750 डेडिकेटेड कोविड बेड बनाये जाएंगे. सीएम ने कहा कि रांची में मरीजों का दबाव बढ़ रहा है. इस बोझ को कम करने के लिए रामगढ़ में सीसीएल के 150 बेड के अस्पताल को कोविड वार्ड में बदला जाएगा. इसकी देखरेख रिम्स के द्वारा होगी. मुख्यमंत्री ने डॉक्टरों को सख्त चेतावनी देते हुए दो टूक कहा है कि किसी भी परिस्थिति में मरीज के इलाज में कोताही या लापरवाही ना बरते. मरीज की जान बचाने के लिए हर संभव कोशिश करे. लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.