अधिवक्ताओं के लिए आईएएल ने मांगी आर्थिक सहायता।   

 | 
अधिवक्ताओं के लिए आईएएल ने मांगी आर्थिक सहायता।

 संगीता की रिपोर्ट     

पूरे झारखंड में बोकारो समेत कोरोना संक्रमण तेजी से अपना पांव पसार रहा है।सभी को न्याय दिलाने वाला अधिवक्ता समाज भी इस से अछूता नहीं रहा है।कोरोना संक्रमण से कई अधिवक्ताओं की मौत भी हो गई है और कई परिवार इसके चपेटे में हैं। स्टेट बार काउंसिल ने पत्र जारी कर सभी अधिवक्ताओं को 2 मई तक घर पर रहने का निर्देश जारी किया गया है।लेकिन, अधिवक्ता समाज को इससे आगे होने वाली आर्थिक परेशानी की चिंता सता रही है। इंडियन एसोसिएशन ऑफ लायर्स ने झारखंड के मुख्यमंत्री , झारखंड राज्य बार काउंसिल ऑफ इंडिया को पत्र लिखकर अधिवक्ता कल्याण के लिए आर्थिक सहायता मांगी है। इस संदर्भ में इंडियन एसोसिएशन ऑफ लायर्स के नेशनल कौंसिल मेंबर अधिवक्ता रंजीत गिरी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से कई ने अपने साथियों को खो दिया है। स्थिति इतनी भयावह व दयनीय हो गई है कि मकान का किराया, महीने का राशन पानी, बच्चों के फीस के लिए भी लाले पड़ गए हैं। इस वजह से सरकार से आर्थिक मदद मांगी गई है। अधिवक्ताओं की मदद के लिए झारखंड सरकार को एडवोकेट केयर फंड का गठन करना चाहिए ताकि जरूरत मंद अधिवक्ता को सरकारी स्तर पर मदद की जा सके।