मैं भी कोरोना वॉलेंटियर्स अभियान छतरपुर जिले में जमीनी स्तर पर जन-जाग्रति का अलख जगाने में प्रभाव छोड़ रहा है।

 | 
मैं भी कोरोना वॉलेंटियर्स अभियान छतरपुर जिले में जमीनी स्तर पर जन-जाग्रति का अलख जगाने में प्रभाव छोड़ रहा है।

अनूप दुबे की रिपोर्ट

छतरपुर-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मैं भी कोरोना वॉलेंटियर्स अभियान छतरपुर जिले में जमीनी स्तर पर जन-जाग्रति का अलख जगाने में प्रभाव छोड़ रहा है। इस अभियान में वॉलेंटियर्स जी-जान से जुटकर कोरोना संक्रमण के प्रभावी रोकथाम के लिए लोगों को घरों में रहने, मास्क लगाने और गाइडलाइन का सतर्कता से पालन तथा मास्क नहीं तो बातचीत भी नहीं, मास्क नहीं तो ग्रहस्ती का सामान भी नहीं के लिए समझाईश दे रहे हैं। वॉलेंटियर्स घर-घर और दुकानदारों के पास जाकर उन्हें मास्क पहनने और विषम स्थिति को छोड़कर घर से बाहर नहीं निकलने के लिए जागरूक बनने का संदेश दे रहे हैं। इस अभियान में वॉलेंटियर्स राज्य सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी नागरिकों को देते हुए कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए समाज की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित कराने का कार्य भी कर रहे हैं। मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के जिला समन्वय ने बताया कि सभी विकास खंडों में ग्रामीण स्तर एवं नगरीय केंद्रों पर पर वॉलिंटियर के द्वारा मोहल्लों में टोलियां बनाकर वैक्सीन लगवाने तथा मेरा मास्क मेरी सुरक्षा के स्लोगन घरों पर चिपकाते हुए लोगों को मास्क के प्रति जागरूक किया जा रहा है। तो वहीं दुकानों पर जा-जा कर मास्क नहीं तो सामान भी नहीं की समझाईश देते हुए दुकानों पर स्लोगन भी लगाए जा रहे हैं। कोरोना वॉलेंटियर एवं अन्य संस्थाएं छतरपुर जिले विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में रोको-टोको अभियान चलाकर लोगों को जागरूक कर रही है और दीवार लेखन के माध्यम से कोविड जागरूकता स्लोगन लिखे जा रहे हैं।