डॉक्टर सुभाष मिश्रा कर रहे रोज पत्रकारों से ऑनलाइन प्रेस वार्ता और दे रहे कोरोना संबंधित जरूरी सूचना।

 | 
डॉक्टर सुभाष मिश्रा कर रहे रोज पत्रकारों से ऑनलाइन प्रेस वार्ता और दे रहे कोरोना संबंधित जरूरी सूचना।

हेमंत कुमार की रिपोर्ट

रेमडेसिवीर की आवश्यकता हर कोरोना मरीज के लिए नहीं  स्वास्थ्य विभाग के संचालक डॉ. सुभाष मिश्रा ने विस्तार से बताया, किसके लिए उपयोगी हो सकती है ये दवा, यह भी बताया कि ये दवा वायरल लोड कम करने का कार्य करती है ये लाइफ सेविंग ड्रग नहीं है अन्य दवाएं भी गंभीर संक्रमण को रोकने में होती हैं उपयोगी*

रेमडेसिवीर दवा की उपयोगिता केवल गंभीर मरीजों के लिए है, जिन मरीजों का सीटी स्कोर 8 से अधिक है अथवा जिन्हें सांस लेने में दिक्कत महसूस हो रही है और जिनका ऑक्सीजन लेवल 90 से कम है तथा जो कॉर्बिड अर्थात बीपी, शुगर, थाइरोइड जैसी बीमारियों से पीड़ित हैं उन्हें यह दवा दी जा सकती है। सामान्य मरीज जिनका ऑक्सीजन लेवल अच्छा है उन्हें रेमडेसिवीर दी जाए तो उन्हें साइड इफेक्ट हो सकते हैं रेमडेसिवीर एंटीवायरल मेडिसिन है और वायरल लोड को कम करती है। वायरल लोड बढ़े होने की दशा में डॉक्टर इसे देने की सलाह देते हैं लेकिन यह ध्यान रहे की रेमडेसिवीर लाइफ सेविंग ड्रग नहीं है यह केवल वायरल लोड को कम करने वाली दवा है और अलग-अलग मरीजों में इसका अलग-अलग असर होता है। उन्होंने कहा कि गंभीर मरीजों के लिए अन्य विकल्प भी होते हैं इनमें स्टेरॉयड का विकल्प होता है यह इंफ्लेमेशन को धीमा करते हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना के बिना लक्षण वाले मरीजों एवं सामान्य लक्षण वाले मरीजों के लिए एंटीबायोटिक दवा के साथ विटामिन और जिंक की डोज ही पर्याप्त होती है। रेमडेसिवीर दवा ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे लोगों या सांस लेने में दिक्कत महसूस कर रहे लोगों तथा ऐसी स्थिति वाले कोमोरबिड मरीजों के लिए ही उपयोगी हो सकती है।