कांस्टेबल ने पत्नी की हत्या कर जंगल में फेंका शव, पकड़ा गया तो दो दिन बाद जेल में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली

 | 
कांस्टेबल ने पत्नी की हत्या कर जंगल में फेंका शव, पकड़ा गया तो दो दिन बाद जेल में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली

रेशम वर्मा कि रिपोर्ट 

बीजापुर-गुरुवार दोपहर को उसका शव फंदे से लटकता मिला। बताया जा रहा है कि पूछताछ में कांस्टेबल ने पत्नी की हत्या करने की बात स्वीकार कर ली थी। उसे अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह था।
शांति नगर निवासी पल्लव बुधु (33) पुलिस कांस्टेबल था। उसकी साल 2011 में मैनी पल्लव (29) से शादी हुई थी। दोनों के तीन बच्चे भी हैं। कुछ दिनों से पति-पत्नी के बीच विवाद चल रहा था। बताया जा रहा है कि रविवार सुबह करीब 10.30 बजे उसने अपनी पत्नी मैनी को लकड़ी काटने के बहाने जंगल में बुलाया और वहां कपड़े से गला घोंट कर शव फेंक दिया। इसके बाद घर लौटकर पत्नी की तलाश करने लगा।
जेल में मिलने वाली चादर से ही बनाया कांस्टेबल ने फंदा
पति-पत्नी के झगड़े के कारण पड़ोसियों को संदेह हुआ तो उन्होंने पुलिस को सूचना दे दी। पूछताछ के बाद पुलिस ने मंगलवार को पल्लव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। वहां गुरुवार करीब 2.30 बजे जेल में मिलने वाली चादर को फाड़ कर पल्लव ने बैरक में बने शौचालय में फंदा लगा लिया। शव झूलता देख ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों ने अफसरों को सूचना दी। पल्लव रक्षित केंद्र में पदस्थ था और तीन माह पहले ही दूसरी महिला से भी शादी कर ली थी।