कोटा में फंसे 39 छात्रों सहित 47 लोग पहुंचे बिलासपुर

मनोज उनियाल की रिपोर्ट बिलासपुर (हिमाचल): राजस्थान के कोटा में लॉकडाऊन के कारण फंसे प्रदेश के विभिन्न जिलों के 39 छात्रों सहित कुल 47 लोगों को एचआरटीसी की बसों द्वारा रविवार को जिला मुख्यालय लाया गया। इन सभी को पर्यटन विभाग के लेक व्यू होटल में आइसोलेट किया गया है। होटल के बाहर पुलिस बल
 | 
कोटा में फंसे 39 छात्रों सहित 47 लोग पहुंचे बिलासपुर

मनोज उनियाल की रिपोर्ट

बिलासपुर (हिमाचल): राजस्थान के कोटा में लॉकडाऊन के कारण फंसे प्रदेश के विभिन्न जिलों के 39 छात्रों सहित कुल 47 लोगों को एचआरटीसी की बसों द्वारा रविवार को जिला मुख्यालय लाया गया। इन सभी को पर्यटन विभाग के लेक व्यू होटल में आइसोलेट किया गया है। होटल के बाहर पुलिस बल को तैनात किया गया है और स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से मिलने-जुलने पर भी रोक लगाई गई है। सैंपलिंग की रिपोर्ट आने तक छात्रों को होटल में रहना होगा, बाद में सभी को होम क्वारंटाइन किया जाएगा।

तीन  बसों में बिलासपुर पहुंचे छात्र

रविवार करीब सुबह 11 बजे निगम की 3 बसों में कोटा से बिलासपुर, मंडी, कुल्लू व लाहौल-स्पीति के 39 छात्रों व कुछ के 8 परिजनों को लेक व्यू होटल में लाया गया, जहां पर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग करने के साथ स्वास्थ्य को जांचा गया। होटल के बाहर छात्रों के सामान व एचआरटीसी की बसों को सैनिटाइज किया गया। जिला प्रशासन के अधिकारी, कर्मचारी और स्वास्थ्य विभाग की टीमों सहित पुलिस विभाग के कर्मचारी हर गतिविधि पर नजर रखने के लिए मौजूद रहे। छाको बसों से उतार कर होटल के परिसर में लिस्ट के मुताबिक उनकी एंट्री की गई तथा स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञ चिकित्सक द्वारा उनकी स्वास्थ्य जांच करने सहित कोरोना टैस्ट किया गया।

कोटा में फंसे 39 छात्रों सहित 47 लोग पहुंचे बिलासपुर

चालकों को रास्ते में कहीं भी रुकने के नहीं थे निर्देश

बता दें कि प्रदेश सरकार ने कोटा में फंसे हिमाचल के छात्र-छात्राओं को वापस लाने के लिए 24 अप्रैल को प्रदेश से करीब 9 एचआरटीसी बसों को कोटा भेजा था। इन बसों में 2 चालकों व एक परिचालक की ड्यूटी लगाई गई थी। बस चालकों के मुताबिक उन्हें विशेष हिदायत दी गई थी कि वे रास्ते में कहीं नहीं रुकेंगे, जिसकी पालना करते हुए वे करीब 17 से 18 घंटे का सफर तय करने के बाद कोटा पहुंचे।

सैंपल की रिपोर्ट सोमवार को आने  की संभावना

डीसी बिलासपुर राजेश्वर गोयल ने बताया कि कोटा राजस्थान से 39 छात्रों सहित कुछ छात्रों के 8 परिजनों को बिलासपुर लाया गया है। सभी के कोरोना सैंपल लेकर जांच के लिए आईजीएमसी शिमला भेज दिए हैं। सोमवार को सभी की रिपोर्ट आने की संभावना है। रिपोर्ट आने तक उन्हें होटल में रखा जाएगा। नैगेटिव रिपोर्ट आने पर उन्हें उनके घरों में होम क्वारंटाइन किया जाएगा।