बोकारो के समाज सेवक गजेंद्र प्रसाद हिमांशु ने कहा कोरोना से लड़ना है तो पहले अपने शरीर में ही है  करोना की दवाई

 | 
बोकारो के समाज सेवक गजेंद्र प्रसाद हिमांशु ने कहा कोरोना से लड़ना है तो पहले अपने शरीर में ही है करोना की दवाई

शेखर की रिपोर्ट

बोकारो समाज सेवक हिमांशु ने कहां है कि जो भी करोना से स्वस्थ हुए हैं वह सिर्फ अपनी इम्यूनिटी  के तरीके से रोगों से लड़ने की ताकत से यह ठीक हुए हैं बहुत लोगों की ऐसी धारणा है कि ये बीमारी एक बार तो सबको ही होनी है जिसकी इम्यूनिटी जाएगा और अच्छी होगी वह बच जाएगा और जिसकी अच्छी नहीं होगी वह नहीं बचेगा मतलब यह हुआ कि हमारे शरीर की कोविड-19 की करोना की दवा है हमें सारा ध्यान अपनी इम्युनिटी बढ़ाने पर देना चाहिए यदि आप इस महामारी को मात देना चाहते हो तो हमें यह सीखने की बहुत आवश्यकता है
लॉकडाउन 1 मैं गजेंद्र प्रसाद हिमांशु ने गरीबों के बीच मास्क और अनाज वितरण किया था लॉक डाउन टू में सबसे अधिक घटनाएं रोज कमाल के खाने वाली को हो रही है इन लोगों के पास खाने की काफी कमी हो गई है इन्हीं लोगों को मदद के लिए गजेंद्र प्रसाद हिमांशु ने एक बार फिर गरीबों के बीच अनाज बांटने का प्रयास किया है गजेंद्र प्रसाद हिमांशु ने कहा कि आप लोगों की दुआओं के बिना यह काम अधूरा है हिमांशु ने कहा है कि इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए हमें योगा घर का बना शुद्ध भोजन आमला फल हरी सब्जी दाल एक और शुद्ध तेल तुलसी व अन्य आयुर्वेदिक तेल पदार्थ दूर कहीं ज्यादा खाएं छोटे बच्चे के शरीर की इम्युनिटी हटाने वाली चीजें जैसे मैदा बर्गर भटूरे पिज़्ज़ा जलेबी समोसा कचोरी इत्यादि बिल्कुल भी ना खिलाए इस तरह इन बातों पर बातों को अपनाकर आप सभी इम्युनिटी इतनी स्ट्रांग बना सकते हैं हॉकी करोना को को मात दे सकूं ध्यान रहे कि इम्यूनिटी कोरोना की दवा है