बाबा राम रहीम की तीसरी पैरोल अर्जी खारिज

ईसम सिंह की रिपोर्ट सिरसा: डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है। हरियाणा सरकार ने उसकी पैरोल अर्जी खारिज कर दी है। डेरामुखी की मां नसीब कौर ने बेटे को तीन सप्ताह की पैरोल देने के लिए अर्जी डाली थी। जिसके बाद ये निर्णय लिया गया है। बता
 | 
बाबा राम रहीम की तीसरी पैरोल अर्जी खारिज

ईसम सिंह की रिपोर्ट

सिरसा: डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है। हरियाणा सरकार ने उसकी पैरोल अर्जी खारिज कर दी है। डेरामुखी की मां नसीब कौर ने बेटे को तीन सप्ताह की पैरोल देने के लिए अर्जी डाली थी। जिसके बाद ये निर्णय लिया गया है।

बता दें कि राम रहीम की मां ने आवेदन में अपनी बीमारी का हवाला दिया था, लेकिन हरियाणा सरकार ने शुक्रवार को यह अर्जी खारिज कर दी। बता दें कि इससे पहले भी दो बार उसकी पैरोल की अर्जी खारिज की जा चुकी है। इस बार उसकी मां ने बीमारी का हवाला देकर बेटे के लिए पेरोल मांगा था। उसने इस बार इमरजेंसी पैरोल मांगी थी।

बाबा राम रहीम की तीसरी पैरोल अर्जी खारिज

राम रहीम के करीबियों में इस खबर के आने के बाद से मायूसी छा गई है। डेरा के आस-पास के इलाकों में मातम पसरा हुआ है।  उनके समर्थक उम्मीद लगाए बैठे कि आज शायद राम रहीम की पेरोल की अर्जी स्वीकार कर ली जाये। लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

अकाल तख्त ने लगाया ये गंभीर आरोप

श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने आरोप लगाया है कि कोरोना की आड़ में हरियाणा सरकार गुरमीत राम रहीम को पेरोल पर छोड़ सकती है।

इस मामले को लेकर पंजाब और हरियाणा में तनातनी बढ़ गयी है। अकाल तख्त का कहना है कि ऐसे माहौल में अगर राम रहीम को परोल पर छोड़ा गया तो माहौल बिगड़ेगा।

राम रहीम का प्रारंभिक जीवन

गुरमीत राम रहीम सिंह का जन्म 15 अगस्त, 1967 को राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के गुरूसर मोदिया में जाट सिख परिवार में हुआ। इन्हें महज सात साल की उम्र में ही 31 मार्च, 1974 को तत्कालीन डेरा प्रमुख शाह सतनाम सिंह जी ने ये नाम दिया था। 23 सितंबर, 1990 को शाह सतनाम सिंह ने देशभर से अनुयायियों का सत्संग बुलाया और गुरमीत राम रहीम सिंह को अपना उत्तराधिकारी घोषित कर दिया।

बाबा राम रहीम की तीसरी पैरोल अर्जी खारिज

गुरमीत राम रहीम सिंह अपने माता-पिता की इकलौती संतान हैं। डेरा प्रमुख की दो बेटियां और एक बेटा है। बड़ी बेटी चरणप्रीत और छोटी का नाम अमरप्रीत है, जबकि उन्होंने इन दो बेटियों के अलावा एक बेटी को गोद लिया हुआ है। गुरमीत राम रहीम के बेटे की शादी भठिंडा के पूर्व एमएलए हरमिंदर सिंह जस्सी की बेटी से हुई है। इनके सभी बच्चों की पढ़ाई डेरे की ओर से चल रहे स्कूल में हुई है। इनके दो दामाद रूहेमीत और डॉ. शम्मेमीत हैं।

कैसे बने डेरा के प्रमुख 

डेरा सच्चा सौदा की स्थापना शाह मस्ताना जी महाराज ने 1948 में सिरसा में की थी। डेरा सच्चा सौदा के दूसरे गुरु शाह सतनाम सिंह जी महाराज बने थे। शुरुआत में डेरा का प्रभाव हरियाणा के सिरसा, फतेहबाद, हिसार, सोनीपत, कैथल और पंजाब के मनसा, मुक्तसर और भठिंडा तक ही सीमित था, लेकिन 1990 में जब बाबा राम रहीम डेरा प्रमुख बने तो इसका विस्तार तेज हुआ।

डेरा सच्चा सौदा 104 तरह के सामाजिक कार्यक्रम चलाने का दावा करता है। डेरा के मुताबिक, प्राक़ृतिक आपदा में लोगों की मदद करना, रक्त दान करना, स्वच्छता अभियान चलाना, वृक्षारोपण करना, भ्रूण हत्या और नशे के खिलाफ मुहिम चलाना सबसे प्रमुख कार्य हैं। डेरा का यह भी दावा है कि अनाथ बच्चों को अपनाने और वेश्‍यावृत्ति उन्‍मूलन के क्षेत्र में भी हम काम करते हैं।

देशभर में हैं डेरा के 46 आश्रम

हरियाणा के सिरसा जिले में डेरा का आश्रम 65 सालों से चल रहा है। डेरा का साम्राज्य विदेशों तक फैला हुआ है। देश में डेरा के करीब 46 आश्रम हैं और उसकी शाखाएं अमेरिका, कनाडा और इंग्लैंड से लेकर ऑस्ट्रेलिया और यूएई तक फैली हुई हैं। दुनियाभर में इसके करीब पांच करोड़ अनुयायी हैं जिनमें से 25 लाख अकेले हरियाणा में ही मौजूद हैं।

बाबा राम रहीम की तीसरी पैरोल अर्जी खारिज

‘रॉक स्टार’ भी कहलाते हैं बाबा

अपने अनुयायियों के बीच नाचते-गाते और झूम-झूमकर थिरकते बाबा राम रहीम का नाम यूं तो पिछले करीब दो दशकों से देश और विदेश में गूंज रहा है। यही कारण है कि वे अपने अनुयायियों के बीच एक संत होने के साथ एक ‘रॉक स्टार’ भी कहलाते हैं। राजनीति के क्षेत्र में भी देखा जाए तो पंजाब और हरियाणा में डेरा को एक बड़ी ताकत माना जाता है और यही वजह है कि ग्राम पंचायत से लेकर लोकसभा के चुनाव तक सभी दलों के नेता बाबा से समर्थन मांगने डेरा आते रहे हैं।

कारोबार के क्षेत्र में भी हैं राम रहीम

बाबा रामदेव के पतंजलि प्रोडक्ट्स की तरह ही राम रहीम भी MSG नाम से प्रोडक्ट्स बाजार में बेचते हैं। MSG के पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली-एनसीआर में 200 स्टोर हैं। कंपनी के प्रोडक्ट्स में दाल, अनाज, चावल, आटा, देसी घी, मसाले, अचार, जेम, शहद, मिनरल वॉटर और नूडल्स शामिल हैं। बाबा के पास हरियाणा के सिरसा में करीब 700 एकड़ की एग्रीकल्चर लैंड है। वे एक गैस स्टेशन और एक मार्केट कॉम्प्लेक्स भी चलाते हैं।

बाबा राम रहीम से जुड़े विवाद

डेरा प्रमुख जितने चर्चित हैं, उतने ही विवादित भी रहे हैं। 2002 में बाबा पर अपने आश्रम की साध्वियों के साथ बलात्कार करने के आरोप लगे। सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति और डेरा के पूर्व मैनेजर रणजीत सिंह की हत्या में भी बाबा राम रहीम का हाथ होने का आरोप लगा है।

बाबा राम रहीम की तीसरी पैरोल अर्जी खारिज

डेरा प्रमुख का विवादों से नाता नया नहीं है। डेरा प्रमुख अपनी फिल्म ‘मैसेंजर ऑफ गॉड’ को लेकर भी चर्चा में रहे। डेरा प्रमुख ने अपनी फिल्म का खुद ही निर्माण और संगीत तैयार किया है। सिख संगठन और अन्य धार्मिक संगठनों का कहना है कि डेरा प्रमुख या तो पूरी तरह से संत बनें या फिर एक्टर।

दूसरी ओर डेरा प्रमुख पर 400 साधुओं को नपुंसक बनाने का मामला भी दर्ज है। डेरा में यह कहकर साधुओं को नपुंसक बनाया गया था कि नपुंसक बनाए जाने से वे लोग डेरा प्रमुख के जरिए प्रभु को महसूस कर सकेंगे।

टीवी अभिनेता और जाने-माने कॉमेडियन कीकू शारदा उर्फ पलक को लेकर भी मामला सुर्खियों में रहा था। जिसमें कीकू को गुरमीत राम रहीम की मिमिक्री करने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। बाद में कीकू को जमानत मिल गई थी।

बाबा राम रहीम के निवास को लेकर भी माहौल गर्म रहा है। कहा जाता है कि वे गुफानुमा जगह में रहते हैं, जहां उनके खास सेवादारों को ही अंदर जाने की इजाजत होती है। यही नहीं गुफा में बाबा की सुरक्षा में 24 घंटे महिला सेवादार तैनात रहती हैं।