कोरोना और कुपोषण को हराने मैदान में उतरी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका

 | 
कोरोना और कुपोषण को हराने मैदान में उतरी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर में बडे बुजुर्गों को कोरोना वैक्सिनेशन के लिए कर रहे प्रेरित,साथ में दे रहे बच्चों को पौष्टिक आहारजिले में अब तक 1 लाख 41 हजार से अधिक हितग्राहियों को घर पर पहुंचा कर दिया गया रेडी टू ईट

जागेशवर प्रसाद वर्मा कि रिपोर्ट 

बलौदाबाजार-कोविड-19 कोरोना वायरस के दूसरे लहर के संक्रमण को रोकने और राज्य शासन द्वारा जारी कुपोषण के खिलाफ अभियान को एक साथ चलाते हुए बलौदाबाजार-भाटापारा जिले की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका मैदान में उतर गई है। इन आंगनबाड़ी अमलो द्वारा आंगनबाड़ी में दर्ज बच्चों के घर पहुंच बच्चों में कुपोषण से लड़ने की क्षमता विकसित करने वाले पौष्टिक आहार रेडी-टू-ईट वितरण किया जा रहा है। वही घर-घर पहुंचकर बच्चों के माता-पिता और घर के बुजुर्गों से भेंट कर कोविड-19 कोराना वायरस के दूसरे लहर के संक्रमण को रोकने और कोरोना वैक्सिनेशन कराने के लिए भी प्रेरित कर रहे हैं।आंगनबाड़ी कार्यकताओं द्वारा डोर-टू-डोर घर पहुंच यह भी समझाया जा रहा है कि कोरोना और कुपोषण के खिलाफ जारी लड़ाई में सहयोग करे। बच्चों को पौष्टिक आहार रेडी-टू-ईट का सेवन कराए और घर से बड़े बुजुर्ग।अनावश्यक घर से बाहर ना निकले। घर के सभी सदस्य कोरोना वैक्सिनेशन जरूरी कराए,घर से बाहर निकले समय समाजिक-भीड़ वाली जगहों में जाने से बचे और मास्क लगाकर ही घर से बाहर निकले। वेक्सिनेशन के बाद भी सामाजिक दूरी का पालन करे। सर्दी-खासी,बुखार, सिर दर्द होने पर अपने पास के स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर कोरोना को परीक्षण कराए। चिकित्सकों के परामर्शनुसार दवाइयों को सेवन करे। 
जिला कार्यक्रम अधिकारी एल आर कच्छप ने बताया कि जिले के 1900 आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका के द्वारा हितग्राहियों के घर-घर पहुंच कर उन्हें रेडी टू ईट का वितरण और कोरोना से बचाव के लिए जागरूक किया जा रहा है। कलेक्टर सुनील कुमार जैन के मार्गदर्शन में अब तक जिले में 1लाख 3 हजार 262 घरों में पहुँचकर 1 लाख 41 हजार 71 हितग्राहियों को रेडी टू ईट का वितरण किया गया है। श्री कच्छप ने बताया कि रेडी टू ईट का वितरण माह में दो बार प्रथम मंगलवार एवं तृतीय मंगलवार को किया जाता हैं। किंतु लाक डाउन होने के कारण हितग्राही पूरक पोषण आहार से वंचित ना हो इसी को ध्यान में रखते हुए शासन द्वारा घर-घर रेडी टू ईट का वितरण लक्ष्य रखा गया हैं। जिन हितग्राहियों को रेडी- टू-ईट का वितरण किया गया उसमें परियोजना सोनाखान के अंतर्गत 12,431,भटगांव में 14689, बिलाईगढ़ 12,675,कसडोल 16,248, लवन 13,431,पलारी  19,543, बलौदाबाजार 11,754 सिमगा 24,083 तथा भाटापारा में 16,017 हितग्राहियों को रेडी-टू-ईट का वितरण किया गया हैं। इसके साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी कोरोना काल में कांटेक्ट रेसिंग,घर-घर सर्वे एवं रेडी टू ईट का वितरण तथा शासन की कई  महत्वपूर्ण योजनाओं का क्रियान्वयन का भार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के ऊपर हैं। गौरतलब है कि रेडी टू ईट के तहत ऐसे पोषण आहार हितग्राहियों को दिए जाते हैं जो  कैलोरी और प्रोटीन से भरपूर हैं और इन्हें तुरंत बना कर आसानी से खाया जा सकता है।