सिस्सू में बर्फ़ से पर्यटन उद्योग को मिली गर्मी

मनोज उनियाल की रिपोर्ट मनाली के बाद लाहुल का सिस्सू नया टूरिस्ट स्टेशन बनकर उभरा है। लाहुल-स्पीति में हुए हिमपात का सबसे ज्यादा फायदा सिस्सू के पर्यटन कारोबारियों को हो रहा है। हलांकि पर्यटन की दृष्टि से यहां अभी काफी काम होना अभी बाकी है, लेकिन बर्फ के दीदार के लिए मनाली से लाहुल का रुख
 | 
सिस्सू में बर्फ़ से पर्यटन उद्योग को मिली गर्मी

मनोज उनियाल की रिपोर्ट

मनाली के बाद लाहुल का सिस्सू नया टूरिस्ट स्टेशन बनकर उभरा है। लाहुल-स्पीति में हुए हिमपात का सबसे ज्यादा फायदा सिस्सू के पर्यटन कारोबारियों को हो रहा है। हलांकि  पर्यटन की दृष्टि से यहां अभी काफी काम होना अभी बाकी है, लेकिन बर्फ के दीदार के लिए मनाली से लाहुल का रुख करने वाले पर्यटकों के चेहरों पर उस समय रौनक दिखाई दे रही है, जब ये पर्यटक अटल टनल के नॉर्थ पोर्टल पर सफर कर रहे हैं। बर्फबारी के बाद अटल टनल रोहतांग का नॉर्थ पोर्टल सैलानियों से गुलजार हो गया है। मनाली-लेह मार्ग पर भी वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई है। रोहतांग के साथ लाहुल घाटी में हुई बर्फबारी से दिवाली में पर्यटन कारोबार में उछाल आने की उम्मीद है। मनाली से लेकर लाहुल के सिस्सू व कोकसर में पर्यटन कारोबार को रफ्तार मिली है।

 घाटी में गुरुवार को मौसम साफ होने पर सुबह से ही मनाली से नॉर्थ पोर्टल की ओर सैलानियों के वाहन आने शुरू हो गए थे। दोपहर तक सैकड़ों पर्यटकों ने नॉर्थ पोर्टल सहित चंद्रा घाटी के कोकसर से लेकर गोंधला तक बर्फ के बीच अठखेलियां की। एक-दूसरे पर बर्फ के गोले फेंकने के साथ जमकर फोटो शूट किया। कुछ पर्यटकों ने यंद्रक और सिस्सू के पास स्कीइंग का भी आनंद लिया। घाटी में इन दिनों पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली से ज्यादा पर्यटक पहुंच रहे हैं। उधर, मौसम साफ होने के बाद मनाली-लेह मार्ग पर भी वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई। इसके अलावा मनाली के साथ लाहुल की ओर से भी रोहतांग दर्रे को खोलने का काम बीआरओ की ओर से जारी है। लाहुल के कोकसर की ओर से डोलमा मोड़ तक मार्ग बहाल हो गया है। पर्यटन कारोबारी सुरेंद्र शर्मा, राजेश कुमार, तेजा सिंह का कहना है कि दिवाली में पर्यटन कारोबार में उछाल आने की उम्मीद है।