सर्द हवाओं के बीच भी भक्तों की श्रद्धा कम नहीं, कर रहे मां के दर्शन

जगपाल सिंह की रिपोर्ट कटड़ा : मौसम ने एक बार फिर करवट बदली और रविवार को दिनभर आसमान पर घने बादलों का जमघट लगा रहा। इसके साथ ही दिनभर सर्द हवाएं निरंतर चलती रहीं। इसके बावजूद देशभर से मा वैष्णो देवी के दर्शन को आए श्रद्धालु अपने परिजनों के साथ गर्म कपड़े पहनकर निरंतर भवन
 | 
सर्द हवाओं के बीच भी भक्तों की श्रद्धा कम नहीं, कर रहे मां के दर्शन

जगपाल सिंह की रिपोर्ट

कटड़ा : मौसम ने एक बार फिर करवट बदली और रविवार को दिनभर आसमान पर घने बादलों का जमघट लगा रहा। इसके साथ ही दिनभर सर्द हवाएं निरंतर चलती रहीं। इसके बावजूद देशभर से मा वैष्णो देवी के दर्शन को आए श्रद्धालु अपने परिजनों के साथ गर्म कपड़े पहनकर निरंतर भवन की ओर बढ़ते रहे। बदले मौसम के बावजूद श्रद्धालुओं को सभी तरह की सुविधाएं निरंतर प्राप्त होती रहीं। इनमें हेलीकॉप्टर सेवा, बैटरी कार सेवा व पैसेंजर केबल कार सेवा प्रमुख है।

बीते दो दिन से मौसम एकदम साफ रहा था और श्रद्धालु खिली धूप के बीच निरंतर भवन की ओर रवाना हो रहे थे, परंतु एक बार फिर मौसम ने रविवार को करवट बदली। बीते शनिवार को करीब 3,000 श्रद्धालुओं ने मा वैष्णो देवी के चरणों में हाजिरी लगाई थी, वहीं रविवार को दिन में 3:00 बजे तक करीब 1,800 श्रद्धालु वैष्णो देवी भवन की ओर रवाना हो चुके थे और श्रद्धालुओं का आना निरंतर जारी था।

सर्द हवाओं के बीच भी भक्तों की श्रद्धा कम नहीं, कर रहे मां के दर्शन

जिस तरह का मौसम बना हुआ है, इससे उम्मीद जताई जा रही है कि श्रद्धालुओं को जल्द ही वैष्णो देवी भवन के साथ ही त्रिकुटा पर्वत पर ताजा हिमपात देखने को मिल सकता है। श्रद्धालु इसका बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। वहीं, पंजाब सरकार व प्रदर्शन कर रहे किसानों के बीच समझौता हो जाने पर उम्मीद है कि जल्द ही ट्रेनों के साथ ही अंतरराज्यीय बसों का परिचालन पूरी तरह से होगा, जिससे वैष्णो देवी यात्रा में बढ़ोतरी होगी, जिसका फिलहाल नगर का व्यापारी वर्ग बेसब्री से इंतजार कर रहा है। क्योंकि 70 से 80 फीसद यात्री अमूमन ट्रेनों द्वारा ही आधार शिविर कटड़ा पहुंचते हैं। वर्तमान में जो भी श्रद्धालु मा वैष्णो देवी के दर्शनों को आ रहे हैं, उनमें अधिकतर श्रद्धालु अपने निजी वाहनों से आधार शिविर कटड़ा पहुंचकर वैष्णो देवी यात्रा कर रहे हैं।