शीत सत्र को संवरने लगा तपोवन

मनोज उनियाल की रिपोर्ट प्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र की घोषणा होते ही तपोवन स्थित विधानसभा परिसर को सजाने-संवारने का काम शुरू हो गया है। जयराम सरकार के तीसरे शीतकालीन सत्र के चलते विधानसभा भवन, मंत्री ब्लॉक और बाग-बागीचों को चकाचक करने में सचिवालय सहित पीडब्ल्यूडी और अन्य विभागों के कर्मचारी जुट गए हैं। परिसर में
 | 
शीत सत्र को संवरने लगा तपोवन

मनोज उनियाल की रिपोर्ट

प्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र की घोषणा होते ही तपोवन स्थित विधानसभा परिसर को सजाने-संवारने का काम शुरू हो गया है। जयराम सरकार के तीसरे शीतकालीन सत्र के चलते विधानसभा भवन, मंत्री ब्लॉक और बाग-बागीचों को चकाचक करने में सचिवालय सहित पीडब्ल्यूडी और अन्य विभागों के कर्मचारी जुट गए हैं। परिसर में बाग-बागीचों की कटाई-छंटाई सहित साफ-सफाई का काम भी शुरू हो गया है। सात से 11 दिसंबर तक तपोवन में चलने वाले शीतकालीन सत्र की तैयारियों को लेकर सचिवालय सहित जिला प्रशासन और विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी सर्तक हो गए हैं। सत्र को अब एक माह से भी कम का समय है, ऐसे में प्रशासन ने इसकी तैयारियों को लेकर काम करना शुरू कर दिया है।

बुधवार को लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने भी परिसर का दौरा किया तथा तैयारियों को लेकर विधानसभा सचिवालय के कर्मचारियों के साथ चर्चा की। सत्र की तैयारियों को लेकर अगले सप्ताह से तपोवन में विधानसभा सचिवालय के अधिकारियों का जिला प्रशासन के साथ बैठकों का दौर भी शुरू हो जाएगा। विधानसभा सचिव सहित अन्य अधिकारी जल्द ही तपोवन का दौरा कर आगामी तैयारियों का जायजा लेंगे। अध्यक्ष विपिन परमार भी जल्द ही परिसर का दौरा कर अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

कयासों पर विराम

कोरोना काल के चलते दूसरी राजधानी धर्मशाला में विधानसभा का सत्र करवाने या न करवाने को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन कयासों पर विराम लगाते हुए निर्णय आने के बाद कम समय के चलते तैयारियां शुरू हो गई हैं।