निजामुद्दीन से निकाले गए हिमाचल के 21 जमाती दिल्ली में क्वारंटाइन किए गए

मनोज उनियाल की रिपोर्ट टावर लोकेशन के आधार पर खुफिया एजेंसी आईबी ने नाम, पते और संपर्क नंबर सहित प्रदेश सरकार को भेजी रिपोर्ट शिमला-हिमाचल प्रदेश के 701 लोगों की टावर लोकेशन निजामुद्दीन मरकज की पाई गई है। देश की सबसे बड़ी खुफिया एजेंसी आईबी ने टावर लोकेशन की यह रिपोर्ट हिमाचल सरकार को भेजी
 | 
निजामुद्दीन से निकाले गए हिमाचल के 21 जमाती दिल्ली में क्वारंटाइन किए गए

मनोज उनियाल की रिपोर्ट

टावर लोकेशन के आधार पर खुफिया एजेंसी आईबी ने नाम, पते और संपर्क नंबर सहित प्रदेश सरकार को भेजी रिपोर्ट

शिमला-हिमाचल प्रदेश के 701 लोगों की टावर लोकेशन निजामुद्दीन मरकज की पाई गई है। देश की सबसे बड़ी खुफिया एजेंसी आईबी ने टावर लोकेशन की यह रिपोर्ट हिमाचल सरकार को भेजी है। नाम, पते और संपर्क नंबर सहित भेजी गई इस सूची पर तुरंत संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार ने प्रदेश भर में लौटे 49 तबलीगी जमातियों को क्वारंटाइन कर दिया है। इसके अलावा निजामुद्दीन से निकाले गए हिमाचल के 21 जमाती दिल्ली में क्वारंटाइन किए गए हैं। आने वाले दिनों में जमातियों की संख्या में बढ़ोतरी होने की प्रबल आशंका है।  अतिरिक्त मुख्य सचिव आरडी धीमान का कहना है कि टावर लोकेशन के आधार पर निजामुद्दीन के आसपास हिमाचल के 701 लोग पाए गए हैं। इनमें 363 लोगों की लोकेशन निजामुद्दीन के इर्द-गिर्द दर्ज हुई है। इसके अलावा 13 मार्च से लेकर 15 मार्च तक 41 लोगों की टावर लोकेशन निजामुद्दीन की आई है। अलबत्ता देश की सबसे बड़ी खुफिया एजेंसी आईबी ने टावर लोकेशन के आधार पर हजारों लोगों की सूची केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजी है। इसके तुरंत बाद केंद्रीय कैबिनेट सचिव ने राज्य सरकारों के मुख्य सचिव और डीजीपी के साथ वीडियो कान्फ्रेंस कर इस मामले की जानकारी साझा करते हुए प्रदेश सरकारों को सतर्क किया है। इसी कड़ी में हिमाचल को भेजी गई 701 लोगों की सूची के बाद हड़कंप मच गया है। प्रदेश सरकार ने तुरंत प्रभाव से एक्शन लेते हुए यह सूची जिला के डीसी-एसपी को प्रेषित कर नामजद लोगों का पता लगाने के निर्देश दिए हैं। पुख्ता सूचना के अनुसार इस एक्सरसाइज के चलते प्रदेश के कई हिस्सों में 49 जमातियों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि दिल्ली की निजामुद्दीन मरकज में इस्लामिक शिक्षा लेने के लिए हिमाचल प्रदेश के सैकड़ों लोग पिछले तीन महीनों में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा चुके हैं। मंगलवार को राज्य सरकार ने 17 लोगों की सूची जारी करते हुए खुलासा किया था कि चंबा के 14, कुल्लू का एक और सिरमौर के दो जमाती निजामुद्दीन में मौजूद हैं। राज्य सरकार का दावा था कि पिछले तीन महीनों से सभी 17 लोग निजामुद्दीन मरकज में डटे थे। इसी बीच बुधवार को आईबी की नई सूची में 701 लोगों के नाम शामिल होने के बाद हड़कंप मच गया है। इसके बाद खुलासा हुआ कि दिल्ली में हिमाचल के 17 की जगह 21 जमाती क्वारंटाइन किए गए हैं। बहरहाल हिमाचल सरकार ने 49 जमातियों को होम क्वारंटाइन  करने के बाद आईबी की सूची पर अपनी पड़ताल तेज कर दी है।

स्विच ऑफ आ रहे सूची में शामिलों के फोन

आईबी की सूची में शामिल 701 संदिग्धों में से कई लोगों के फोन स्विच ऑफ तथा आउट ऑफ रीच हो गए हैं। इस आधार पर प्रशासन को अब यह संदेह हो गया है कि दिल्ली से हिमाचल लौटे जमाती भूमिगत हो गए हैं। सरकार ने प्रशासन को आदेश दिए हैं कि ऐसे लोगों की तुरंत प्रभाव से तलाश कर उन्हें क्वारंनटाइन किया जाए।