नकली दवाओं का जखीरा पकड़ा गया

मनोज उनियाल की रिपोर्ट औद्योगिक क्षेत्र बद्दी में राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण ने नकली दवा कंपनी का भंडाफोड़ किया है। कंपनी से भारी मात्रा में नकली दवाओं की खेप बरामद हुई है। ग्लेनमार्स हेल्थकेयर नाम की इस कंपनी में फूड प्रोडक्ट लाइसेंस की आड़ में धड़ल्ले से नामी कंपनियों के नाम से नकली दवाओं का
 | 

मनोज उनियाल की रिपोर्ट

औद्योगिक क्षेत्र बद्दी में राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण ने नकली दवा कंपनी का भंडाफोड़ किया है। कंपनी से भारी मात्रा में नकली दवाओं की खेप बरामद हुई है। ग्लेनमार्स हेल्थकेयर नाम की इस कंपनी में फूड प्रोडक्ट लाइसेंस की आड़ में धड़ल्ले से नामी कंपनियों  के नाम से नकली दवाओं का निर्माण हो रहा था। बता दें कि छापामारी के दौरान उक्त उद्योग से उत्तराखंड व बद्दी की नामी फार्मा कंपनियों के लेबल वाली सर्दी, बुखार, दर्द निवारक दवाओं सहित एंटीबायोटिक दवाएं बरामद हुई हैं। राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण ने उक्त दवा कंपनी से लाखों क ी मात्रा में टेबलेट, कैप्सूल व सिरप की बरामदगी के बाद उद्योग को सील कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

बद्दी पुलिस थाना में कंपनी प्रबंधन के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।  फिलहाल एशिया का फार्मा हब कहे जाने वाले बीबीएन में इस कार्रवाई के बाद अफरा-तफरी का माहौल है, हालांकि यह पहला मौका नहीं जब बीबीएन में नकली दवाओं के उत्पादन का खुलासा हुआ है। इससे पहले भी ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं। जानकारी के मुताबिक सोमवार को उत्तराखंड के रुड़की में एक दवा कंपनी पर रेड हुई थी, जिसमें लाखों की नकली दवाएं बरामद हुईं थीं, वहां दवाओं के रैपर की पड़ताल के दौरान सामने आया था कि इन दवाओं का निर्माण बद्दी की कंपनी में हुआ है। इसी कड़ी में जब राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण की टीम ने झाड़माजरी स्थित फ ायल प्रिटिंग उद्योग से पूछताछ की, तो वहां से बद्दी की दो कंपनियों में इन दवाओं के निर्माण का खुलासा हुआ। इस सूचना के आधार पर प्राधिकरण की टीम ने बद्दी साई रोड पर स्थित ग्लेनमार्स हेल्थकेयर में दबिश दी और दवाओं की बड़ी खेप बरामद की। जांच में पाया गया कि ग्लेनमार्स नाम से पंजीकृत इस कपंनी के पास दवा निर्माण का कोई लाइसेंस नही था और उक्त कंपनी ने फूड लाइसेंस की आड़ में दवाओं के निर्माण का उत्पादन शुरू कर दिया था। मंगलवार सुबह डिप्टी ड्रग कंट्रोलर मुनीष कपूर की अगवाई में असिस्टेंट ड्रग कंट्रोलर सहित आठ सदस्यीय दवा निरीक्षकों की टीम ने एक साथ बद्दी साई रोड पर दबिश दी और एक कंप्लेकस के फर्स्ट फ्लोर पर पांच कमरों में चल रहे उद्योग से भारी मात्रा में टेबलेट, कैप्सूल व सिरप की बरामदगी की। डिप्टी ड्रग कंट्रोलर मुनीष कपूर ने बताया कि बद्दी पुलिस थाना में ग्लेनमार्स हेल्थकेयर के खिलाफ ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट की धारा 17बी , 27सी, 36 एसी के तहत मुकदमा दर्ज करवाया गया है। स्टेट ड्रग कंट्रोलर नवनीत मारवाह ने बताया कि सूचना मिली थी कि बद्दी की एक दवा कंपनी में नकली दवा बनाई जा रही है, जिसके आधार पर प्राधिकरण की टीम ने दबिश देकर भारी मात्रा में नकली दवाएं पकड़ी गई हैं। उन्होंने बताया कि उक्त कंपनी के पास दवा निर्माण का कोई लाइसेंस नहीं था। कंपनी फूड लाइसेंस की आड़ में दवा निर्माण कर रही थी।