देविंदर सिंह की गिरफ्तारी के मामले में एनआईए की छापेमारी

एहसान अली की रिपोर्ट श्रीनगर। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने शुक्रवार को दक्षिण कश्मीर में छापामारी की है। यह छापामारी पिछले महीने घाटी में हिजबुल मुजाहिद्दीन(एचएम) के दो आतंकवादियों को अपने वाहन में ले जा रहे पुलिस अधिकारी देविंदर सिंह की गिरफ्तारी के मामले की गई है। देविंदर सिंह को इस मामले में बर्खास्त कर
 | 
देविंदर सिंह की गिरफ्तारी के मामले में एनआईए की छापेमारी

एहसान अली की रिपोर्ट

श्रीनगर।  राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने शुक्रवार को दक्षिण कश्मीर में छापामारी की है। यह छापामारी पिछले महीने घाटी में हिजबुल मुजाहिद्दीन(एचएम) के दो आतंकवादियों को अपने वाहन में ले जा रहे पुलिस अधिकारी देविंदर सिंह की गिरफ्तारी के मामले की गई है। देविंदर सिंह को इस मामले में बर्खास्त कर दिया गया है और वह जेल में है। आधिकारी सूत्रों ने बताया कि जांच एजेंसियों ने पुलवामा के पिंगलान में दारुल उलूम में छापामारी की है।

यह छापामारी 13 फरवरी को नियंत्रण रेखा (एलओसी) व्यापारी संगठन के अध्यक्ष और पुलवामा निवासी तनवीर अहमद वानी की गिरफ्तारी के एक हफ्ते के भीतर हुई है। इस मामले में गिरफ्तार होने वाले वानी छठे व्यक्ति हैं। इससे पहले NIA ने दो दिनों तक दो फरवरी और तीन फरवरी को देविंदर सिंह के आवास समेत दक्षिण और उत्तर कश्मीर के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी। NIA की 20 सदस्यीय टीम ने सिंह के खिलाफ और सबूत जुटाने के लिए ये एक फरवरी को कश्मीर का दौरा किया था। देविंदर सिंह की गिरफ्तारी ने केंद्र और जम्मू कश्मीर की सुरक्षा एजेंसियों को हिलाकर रख दिया था।

गौरतलब है कि देविंदर सिंह को 11 जनवरी को हिजबुल मुजाहिदीन के मोस्ट वांटेड कमांडर सैयद नावीद मुश्ताक, उसके सहयोगी रफी अहमद राठेर और एक अन्य आतंकवादी इरफान शफी मीर के साथ गिरफ्तार किया गया था। जब वे राजमार्ग के रास्ते जम्मू जा रहे थे। इसके बाद जम्मू कश्मीर पुलिस ने घाटी में उसके आवास पर कई बार छापेमारी की थी। जम्मू कश्मीर पुलिस की शुरुआती जांच के बाद यह मामला NIA को सौैंप दिया गया था।