जब्त किए गए 60 किलोग्राम चरस को किया आग के हवाले

विशेष कुमार की रिपोर्ट कुल्लू मनाली। पुलिस लाइन में नशीली दवाओं के निस्तारण समिति ने सभी मामलों की संपत्तियों के निपटान के बाद पुलिस स्टेशन सदर और पुलिस स्टेशन पतलीकूहल के वर्ष 2019 के 44 मामलों की छानबीन की. जिसके लिए 52ए प्रक्रिया पहले ही पूरी हो चुकी थी। इसी के तहत 59.587 किलोग्राम चरस मानक
 | 
जब्त किए गए  60 किलोग्राम चरस को किया आग के हवाले
विशेष कुमार की रिपोर्ट 
कुल्लू मनाली। पुलिस लाइन में नशीली दवाओं के निस्तारण समिति ने सभी मामलों की संपत्तियों के निपटान के बाद पुलिस स्टेशन सदर और पुलिस स्टेशन पतलीकूहल के वर्ष 2019 के 44 मामलों की छानबीन की. जिसके लिए 52ए प्रक्रिया पहले ही पूरी हो चुकी थी। इसी के तहत 59.587 किलोग्राम चरस मानक संचालन प्रक्रिया और नियमों का विस्तार करते हुए नष्ट कर दी गई। एसपी ने बताया कि चरस के मामलों में किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा।
बता दे कि पुलिस ने वर्ष 2019 में 90 किलोग्राम चरस पकड़कर 10 वर्ष पुराना रिकार्ड तोड़ दिया है। वर्ष 2019 पुलिस के लिए सफल रहा है. दस साल पहले इतनी अधिक मात्रा में चरस पकड़ी गई थी। वर्ष 2009 में पुलिस ने 80 किलो चरस पकड़ी थी। पुलिस ने चिट्टा तस्करों पर भी शिकंजा कसा है। वर्ष 2018 में करीब 644 ग्राम चिट्टा पकड़ा गया था, जो 2019 में बढ़कर अभी तक 903 ग्राम तक पहुंचा है। एसपी की रणनीति ड्रग्स व चरस के सोर्स से लेकर अंतिम पड़ाव तक नेटवर्क को तोड़ रही है. नशे के खिलाफ एसपी गौरव सिंह की सख्ती लोगों में चर्चा का विषय बनी हुई है।
पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि चरस, अफीम उगाने वाले, चरस की मालिश व स्टॉकिंग करने, चरस-अफीम के मुख्य सप्लायर ज्यादातर दिल्ली, नाइजीरियन आदि हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को नशा बेचने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। पुलिस ने कुल्लू से नशे को समाप्त करने के लिए मुुहिम चलाई है। नशे के खिलाफ चल रही मुहिम में साथ देकर कुल्लू को नशा मुुक्त बनाएं।