एक दाढ़ी के बाल से पेंटिगं बनाने वाले मुकेश थापा इन दिनों हैं चर्चा में

कुलभूषण की रिपोर्ट धर्मशाला – गिनीज वर्ल्ड बुक रिकार्ड में एक दाढ़ी के बाल से पेंटिगं बनाने वाले एवं अमरीका सहित कई नेशनल अवार्ड अपने नाम करने वाले मुकेश थापा की पेंटिंग इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब धमाल मचा रही है। धर्मशाला के पेंटिगं कलाकार मुकेश थापा को ‘दिव्य हिमाचल’ समाचार पत्र द्वारा भी हिमाचल
 | 
एक दाढ़ी के बाल से पेंटिगं बनाने वाले मुकेश थापा इन दिनों हैं चर्चा में

कुलभूषण की रिपोर्ट 

धर्मशाला – गिनीज वर्ल्ड बुक रिकार्ड में एक दाढ़ी के बाल से पेंटिगं बनाने वाले एवं अमरीका सहित कई नेशनल अवार्ड अपने नाम करने वाले मुकेश थापा की पेंटिंग इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब धमाल मचा रही है। धर्मशाला के पेंटिगं कलाकार मुकेश थापा को ‘दिव्य हिमाचल’ समाचार पत्र द्वारा भी हिमाचल एक्सीलेंस अवार्ड-2019 से सम्मानित किया जा चुका है। धर्मशाला के श्यामनगर के युवा कलाकार मुकेश थापा सातवीं कक्षा से पेंटिगं बनाने की लग्न लेकर कार्य कर रहे हैं। इसके बाद लगातार कड़ी मेहनत और अभ्यास के बाद अब मुकेश थापा की बनाई गई पेंटिंग राष्ट्रीय व कई अंतरराष्ट्रीय अवार्ड भी अपने नाम कर रही हैं। अमरीका द्वारा मुकेश थापा की पेंटिंग को रियलस्टिक अवार्ड, बेस्ट पोट्रेट, इनोवेटिव अवार्ड सहित कई पुरस्कार प्रदान किए हैं। इतना ही नहीं दाढ़ी के बाल से गिनिज वर्ल्ड रिकार्ड बनाने पर हिस्ट्री टीवी पर भी विशेष रूप से फीचर दिखाया जा चुका हैं। अब इन दिनों सोशल मीडिया में भी उनकी जीविंत पेंटिगं खूब धमाल मचा रही है। उनकी गद्दी भेड़पालक पर बनाई गई पेंटिगं पीसफुल लाइफ लोगों को खूब पसंद आ रही है। इतना ही नहीं लोग पेंटिंग को फोटो करार दे रहे हैं। वहीं मुकेश थापा से बात करने पर उन्होंने बताया कि उन्होंने भेड़पालक की पेंटिंग को बनाने के लिए सात से आठ माह तक उस पर कार्य किया है, जिससे कि उनकी पीसफुल लाइफ को वह पूरी गहराई से लोगों तक पहुंचा सकें। उन्होंने बताया कि विदेशी व देश के कई आर्टिस्ट भी गद्दी जीवन को लेकर पेंटिगं बना चुके हैं। लेकिन उन्होंने अन्य के अलावा हटकर पेंटिगं बनाने का प्रयास किया है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अवार्ड विनिगं पेंटिगं को उन्होंने श्यामनगर में फोरेसिंक लैब के साथ लगते मुकेश आर्ट गैलरी में सजाया है, जंहा पर देश-विदेश के पर्यटक भी पहुंच  रहे हैं।