अब श्रीनगर नगर निगम दो प्रमुख सड़कों का नाम बदलने की कर रहा है तैयारी

संदीप दीक्षित की रिपोर्ट श्रीनगर। जम्मू नगर निगम के बाद अब श्रीनगर नगर निगम ने भी ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में दो प्रमुख सड़कों के नाम बदलने का फैसला किया है। निगम की नौ मार्च को होने वाली जनरल कौंसिल की बैठक में इस सिलसिले में एक प्रस्ताव लाया जा रहा है। अगर प्रस्ताव पारित हो
 | 
अब श्रीनगर नगर निगम दो प्रमुख सड़कों का नाम बदलने की कर रहा है तैयारी

संदीप दीक्षित की रिपोर्ट

श्रीनगर। जम्मू नगर निगम के बाद अब श्रीनगर नगर निगम ने भी ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में दो प्रमुख सड़कों के नाम बदलने का फैसला किया है। निगम की नौ मार्च को होने वाली जनरल कौंसिल की बैठक में इस सिलसिले में एक प्रस्ताव लाया जा रहा है। अगर प्रस्ताव पारित हो गया तो एतिहासिक लालचौक को रीगल चौक और अमीरा कदल पुल को जोड़ने वाली सड़क का नाम पत्रकार शुजात बुखारी मार्ग होगा। इसी तरह हजरतबल-सदरबल-लाल बाजार सड़क का नाम मुशीर-उल-हक होगा।

पत्रकार शुजात बुखारी की 14 जून 2018 को आतंकियों ने श्रीनगर में लालचौक के साथ सटे प्रैस एन्कलेव में गोली मारकर हत्या कर दी थी। प्रो मुशीर उल हक 1990 की शुरुआत में कश्मीर विश्वविद्यालय के उपकुलपति थे। आतंकियों ने छह अप्रैल 1990 को उन्हें उनके अंगरक्षक समेत अगवा कर मौत के घाट उतार दिया था।

जम्मू नगर निगम ने गत सप्ताह शरदकालीन राजधानी जम्मू में दो मुख्य चौराहों सिटी चौक और सर्कुलर चौक का नाम बदला है। सिटी चाैक का नया नाम भारत माता चौक रखा गया है और सर्कुलर चौक का नाम पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की याद में अटल चौक रखा गया है।

अब श्रीनगर नगर निगम ने भी श्रीनगर में दो प्रमुख सड़कों के नाम बदलने का फैसला किया है। श्रीनगर नगर निगम के मेयर जुनैद अजीम मट्टु ने खुद इस योजना की पुष्टि की है। श्रीनगर नगर निगम की नौ मार्च को होने जा रही जनरल कौंसिल की बैठक में मैं खुद दो सड़कों के नाम बदलने का प्रस्ताव पेश करुंगा। जम्मू कश्मीर म्यूनिस्पल कार्पाेरेशन एक्ट 2000 के तहत यह प्रस्ताव लाए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि प्रो मुशीर उल हक और शुजात बुखारी, दोनों ने कश्मीर में शिक्षा-पत्रकारिता के विकास में बहुत योगदान किया है। यह दोनों कश्मीर के लिए जिये और शहीद हुए हैं। इसलिए आने वाले पीड़ि़यों को इनके योगदान से अवगत कराने के लिए ही हमने दाे सड़कों को नए सिरे से नामकरण का फैसला किया है। लाल चौक को रीगल चौक और अमीरा कदल पुल से जोड़ने वाली सड़क का नाम शुजात बुखारी मार्ग और कश्मीर विश्वविद्यालय के साथ सटे हजरतबल-सदरबल-लाल बाजार सड़क का नाम प्रो मुशीर उल हक मार्ग रखने का प्रस्ताव है। हमें पूरी उम्मीद है कि यह दोनों प्रस्ताव पारित हो जाएंगे।