अंतिम संस्कार के नाम पर वसूल रहे पैसे, शासन-प्रशासन मौन,,कोरोना मृतक के मातम और दुख

 | 
झारखंड

दूसरा कुछ और नहीं हो सकता मरने की खबर पर दुश्मन भी शौक मनाता है पर अपने स्वार्थ का नर्सरी की प्यास बुझाने के लिए आदमी लाशों का सौदा भी कर सकता है यह देखने को मिला रांची के बोकारो शहर में मानवता को झकझोर देने जैसी है नशे के लिए आदमी कितना गिर जाता है, इसकी सच्चाई उजागर हुई बोकारो जिले के एक श्मशान घाट में एक तो मौत का दुख ऊपर से उनके अंतिम संस्कार में होने वाले व्याख्यान श्मशान घाटों में जगह की लकड़ी की कमी और जी सबसे ऊपर गए तो मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना मानवता को शर्मसार करके ऐसे ही एक घटना है बोकारो जिले की एक श्मशान घाट की जहां शराब के पैसे जुटाने के लिए लाशों के अंतिम संस्कार में 15 से ₹20000 तक वसूले जा रहे हैं, कोरोना के बढ़ते प्रकोप एबीसीडी आए दिन होने वाली मौत को अवसर के रूप में बुला रहे हैं रांची की तरह बोकारो जिले में भी कुर्बानी पांव पसार चुका है बोकारो चास श्मशान घाट में नशेड़ी मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए मृतकों के परिजन से मोटी रकम वसूल रहे हैं जिन्होंने मानवता को शर्मसार कर दिया है परिजन की शिकायत के बाद स्थानीय चौक पुलिस हरकत में आई और शनिवार को श्मशान घाट पहुंचकर लाठियों से पीटकर उन्हें नशेड़ी यों को यहां से खदेड़ा पंडित ने बताया कि इन लोगों का काम यही रह गया है, कि मृतकों की लाश जलाने के लिए ज्यादा से ज्यादा रकम अगर जाए और उन्हें पैसे से शराब और वडनर का नशा गांजा का नशा करते हैं चार्ट ए श्मशान घाट में ही हो रहे इस तरह के अमानवीय घटना के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत करने के बाद शनिवार को पुलिस चार श्मशान घाट पहुंचकर नशेड़ी को लाठी से पीटकर खदेड़ा और उन पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया कोरोना संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है,कल की रिपोर्ट के अनुसार दुकानों में 1 दिन में 325 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए जबकि पूरे झारखंड में 6323 नए संक्रमित पाए गए हैं रांची में 1377 नए संक्रमित पाए गए हैं,जिनमें 159 मरीज की मौत हो गई है पूरे झारखंड में अब तक कुल 

239734 पॉजिटिव मामले मिले हैं जिनमें 58435 संक्रिया मामले हैं 178468 मरीज स्वस्थ हुए हैं और कुल 2829 मरीजों की मृत्यु हुई है,