Otherstates

घूमने से मना करने पर बेटे ने अपनी मां की लात घुसो से मारा फिर…

हरिश साहू की रिपोर्ट

धमतरी । छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में एक कलयुगी बेटे ने अपनी ही मां की जान ले ली है। आरोपी ने मां को इसलिए मार डाला, क्योंकि वो उसे घूमने-फिरने की बजाए काम करने के लिए कहा करती थी। इसी बात से गुस्से में आकर उसने अपनी मां को कमरे में बंद किया और लात-घूंसे से पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। इसके बाद इलाज के दौरान अस्पताल में महिला की मौत हो गई है। पूरा मामला करेली बड़ी चौकी क्षेत्र का है।
धमतरी जिले के मगरलोड थाना अंतर्गत एक ऐसा ही मामला सामने आया है. जहां एक मां ने अपने बेटे को कुछ काम-धंधा करने के लिए कहा. लेकिन मां की ये नसीहत कलयुगी बेटे को नागवार गुजरा और जमीन पर पटक-पटक कर उसकी हत्या कर दी. ये पूरा मामला करेली बड़ी पुलिस चौकी के ग्राम पंचायत परेवाडीह के आश्रित ग्राम दमकाडीह का है. इधर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है ।
जानकारी के अनुसार ग्राम दमकाडीह के रहने वाली यशोदा बाई निषाद का बेटा मानव निषाद बेरोजगार है. वह कोई काम धंधा नहीं करता था. यशोदा बाई ने अपने बेटे मानव निषाद को कुछ काम-धंधा करने को कहा. मां की यह बात मानव को नगावार गुजरा. दोनों के बीच इसी बात को लेकर विवाद शुरू हो गया. विवाद शुरू होने के बाद मानव ने अपने मां को एक कमरे में बंद कर दिया. उसके बाद उनके साथ मारपीट करने लगे. इसी बीच उन्होनें अपने मां को जमीन पर पटक दिया. जिससे मां बेहोश हो गई. इसके बाद मानव ने अपने मां पर जमकर लात-घुंसे बरसाय…इधर, घर से चिल्लाने की आवाज आई तो महिला के देवर विक्रम निषाद और उनके बेटे ने मौके की ओर रूख किया. दोनों ने बंद दरवाजे को धकेल अंदर गए तो देखा कि उनके ही सगे बेटे के द्वारा मारपीट किया जा रहा है ।
मृतिका लोहे के पलंग के पास बेहोश पड़ी हुई थी. जिसके बाद विवाद को शांत करवा कर ग्रामीणों ने बेहोश महिला को आनन फानन में अस्पताल में इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मगरलोड लाया. महिला की नाजूक हालात को देखते हुए डॉक्टरों ने धमतरी रिफर कर दिया. धमतरी के अस्पताल के डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया ।
करेली चौकी प्रभारी संतोष साहू ने बताया कि दमकाडीह में 4 तारीख को मां-बेटे के बीच विवाद हुआ था. जिसमें आरोपी के मां की मौत हो गई थी. चूकिं मौत जिला अस्पताल में हुई थी इसलिए केस डायरी आज करेली चौकी को मिली. जिसके बाद आरोपी को गांव से ही गिरफ्तार कर धारा 302 के तहत जेल भेज दिया गया है ।

Related Articles

Back to top button