Otherstates

आउटसोर्स नर्सों को मुख्यमंत्री आवास जाने से प्रशासन ने रोका

शेखर की रिपोर्ट

धनबाद में जिस तरह छात्र छात्राओं के ऊपर जिला प्रशासन एवं खुद एसडीओ सुदेश कुमार के द्वारा बर्बर तरीके से पिटाई तो वही आज रांची नेम outsourcing नर्सों को मुरादाबाद मैदान के पास रोक दिया गया आपको बताते जाए कि पूरा मामला यह है कि करो ना काल के दौरान एनएचएम के सौजन्य से विज्ञापन निकाला गया था मेन पावर की सप्लाई का

 जिम्मा t&m सर्विसेज अन काउंसलिंग लिमिटेड को दिया गया था वहीं कंपनी के माध्यम से रिम्स में 749 लोगों को नियुक्ति किया गया था इसमें स्टाफ नर्स ग्रेड ए मल्टी परपस वर्कर एनएसथीसिया टेक्निशियन लैब टेक्नीशियन स्वीपर और सिक्योरिटी गार्ड की नियुक्ति हुई थी इन्हें न्यूनतम 3 माह और अधिक 1 साल तक के लिए काम पर रखा गया था इसकी सेवा की अवधि 10 अगस्त को खत्म हो रही है इस वक्त रिम्स चिकित्सा अधीक्षक की ओर से सेवा समाप्ति को लेकर पत्र जारी किया गया जिसे देख नाराज छात्रों ने आज मुख्यमंत्री आवास हम अपनी समस्या को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के पास रखने के लिए जा रहे थे तभी घेराव करने निकले नर्सों को मोराबादी मैदान के पास  पुलिस ने रोक दिया नर्सों का कहना है कि corona के दौरान हम लोग से सेवा लिया गया है अब हमें काम से हटाया जा रहा है अब तक वेतन का भुगतान भी नहीं किया गया है वही मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मी का कहना है कि सभी नर्सों रिम से निकलकर मोराबादी मैदान के रास्ते मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने पहुंची है हम लोग ने इसे रोका है इसकी जो मांग है उसे आगे पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं

Related Articles

Back to top button