भारतीय सिनेमा से जुड़े दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए नेटफ्लिक्स ने दिए सात करोड़

0
19
Ads by Eonads

टिक्कू आपचे की रिपोर्ट

मुंबई। दुनिया भर में लॉकडाउन की वजह से आर्थिक हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। लोगों के रोजगार पर संकट खड़ा हो गया है। इस महामारी के चलते इस वक्त पूरा देश लॉकडाउन की स्थिति का सामना कर रहा है और इससे सभी प्रभावित हुए हैं। एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री भी इससे अछूती नहीं है। मुश्किल के इस समय में, फिल्म उद्योग से कई हस्तियों ने अपना समर्थन प्रदान करते हुए कदम आगे बढ़ाया है। फिल्म आर्टिस्टों की मदद के लिए नेटफ्लिक्स आगे आया है। नेटफ्लिक्स ने भारतीय सिनेमा से जुड़े दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए पीजीआई (प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ इंडिया) को साढ़े सात करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता दी है। जिससे बड़ी संख्या में दिहाड़ी मजूदरों की मदद हो सके।

गौतरलब है कि नेटफ्लिक्स ने अपने जारी घोषणा पत्र में कहा है कि हम टीवी और फिल्म निर्माण में सबसे मुश्किल काम करने वाले श्रमिकों (जिनमें इलेक्ट्रीशियन से लेकर कारपेंटर, बाल और मेकअप कलाकार से स्पॉटब्वॉय तक शामिल हैं) का समर्थन करने के लिए प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ इंडिया के साथ मदद के लिए आगे आए हैं।  बेरोजगार क्रू और कर्मचारियों को आपातकालीन राहत देने के लिए एक मिलियन डॉलर यानि  7.64 करोड़ फंड में डोनेट करेगा।

आपको बता दें कि इससे पहले नेटफ्लिक्स ने अपने घोषणा पत्र में कोरोना से प्रभावित देशों की मदद करने की बात कहा था। फाइनेंशियल एक्सप्रेस में छपी रिपोर्ट के मुताबिक,  नेटफ्लिक्स ने  100 मिलियन डॉलर का रिलीफ़ फंड का एलान किया था। इस फंड से लोगों को काफी मदद की उम्मीदें रही। हालांकि, नेटफ्लिक्स ने यह कदम वैश्विक स्तर पर लिया जो ताऱीफों के लायक था। इसके अवाला नेटफ्लिक्स यूरोप, लैटिन अमेरिका और एशिया में बेरोजगार क्रू और कर्मचारियों को आपातकालीन राहत देने के लिए 15 मिलियन डॉलर फंड में डोनेट की भी घोषणा कर चुका है।

आपको बता दें कि इससे पहले नेटफ्लिक्स ने अपने घोषणा पत्र में कोरोना से प्रभावित देशों की मदद करने की बात कहा था। फाइनेंशियल एक्सप्रेस में छपी रिपोर्ट के मुताबिक,  नेटफ्लिक्स ने  100 मिलियन डॉलर का रिलीफ़ फंड का एलान किया था। इस फंड से लोगों को काफी मदद की उम्मीदें रही। हालांकि, नेटफ्लिक्स ने यह कदम वैश्विक स्तर पर लिया जो ताऱीफों के लायक था। इसके अवाला नेटफ्लिक्स यूरोप, लैटिन अमेरिका और एशिया में बेरोजगार क्रू और कर्मचारियों को आपातकालीन राहत देने के लिए 15 मिलियन डॉलर फंड में डोनेट की भी घोषणा कर चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here