महिलायें हिम्मत, लगन के बल पर बड़ा से बड़ा मुकाम हासिल कर सकती हैं

0
18
Ads by Eonads

अनुराग पाठक की रिपोर्ट

हरदोई- महिलाओ एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलम्बन के प्रति जागरूक करने हेतु 17 से 25 अक्टूबर तक विशेष अभियान चलाया जायेगा।

राजकीय इण्टर कालेज, हरदोई प्रागंण में शारदीय नवरात्रि के अवसर पर महिला कल्याण विभाग द्वारा 17 से 25 अक्टूबर तक आयोजित होने वाले मिशन शक्ति अभियान का शुभारम्भ विधायक रजनी तिवारी, विधायक माधवेन्द्र सिंह रानू, विधायक नितिन अग्रवाल, विधायक आशीष सिंह आशू, जनपद की नोडल अधिकारी पूजा पाण्डेय, जिलाधिकारी अविनाश कुमार तथा पुलिस अधीक्षक अनुराग वत्स ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इसके उपरान्त सभी अतिथियों ने महिला बाइक पुलिस तथा मिशन शक्ति के प्रचार प्रसार हेतु आयी एलईडी वैन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करने के साथ आजिविका मिशन के तहत स्वतः रोजगार विभाग द्वारा प्रकाशित पुस्तक का विमोचन किया तथा विभिन्न विभागों द्वारा लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

इस अवसर पर उपस्थित महिलाओं एवं बालिकाओं को सम्बोधित करते हुए विधायक रजनी तिवारी ने कहा कि महिला कभी अबला नही होती है और वह अपनी हिम्मत, लगन तथा कौशल के बल पर बड़ा से बड़ा मुकाम हासिल कर सकती है, इसलिए महिलाओं एवं बालिकाओं को समाज के उन लोगों का डटकर मुकाबला करना चाहिए जो महिलाओं व बालिकाओं के प्रति गलत हरकत करते है। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार ने महिलाओं एवं बालिकाओं को जागरूक करने के साथ सशक्त बनाने हेतु मिशन शक्ति अभियान प्रारम्भ किया गया है, महिलाओं एवं बालिकाओं को डरने की जरूरत नहीं है और कहीं भी किसी प्रकार की समस्या होने पर वह अपने अभिभावक एवं पुलिस को अवश्य सूचित करें। मिशन शक्ति के शुभारम्भ अवसर पर स्वास्थ्य, आजीविका मिशन, मनरेगा, कृषि, शिक्षा, नगर निकाय, कौशल विकास, पुलिस आदि विभाग में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 101 महिलाओं को जनप्रतिनिधियों ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया तथा दो दिव्यांग बालिकाओं को ट्राई साईकल प्रदान की।

भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष अलका गुप्ता ने अपने सम्बोधन में कहा कि महिलायें एवं बालिकायें अपने को असुरक्षित न समझें और घर से बाहर निकलने पर किसी व्यक्ति द्वारा किसी प्रकार का दुरूव्यवहार करने पर इसका कड़ाई से विरोध करें और इसकी सूचना तत्काल पुलिस व प्रशासन को दें।

कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने कहा उ०प्र० सरकार द्वारा महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलम्बन के लिए एक व्यापक योजना के तहत विशेष अभियान 06 माह तक चलाया जायेगा, जिसमें हर माह एक विशेष अभियान चलाकर ग्रामीण क्षेत्रों महिलाओं एवं बालिकाओं को सशक्त बनाने हेतु सभी विभागों के समन्वय से जागरूक किया जायेगा। उन्होने कहा कि 17 अक्टूबर को शुभारम्भ के बाद 18 अक्टूबर को गांव में व शहरों में स्थानीय निकाय के माध्यम से किसानों, मजदूरों एवं आम जनमानस में लैंगिक संवेदीकरण तथा महिलाओं की सुरक्षा एवं सम्मान हेतु जागरूक किया जायेगा, 19 को स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से लैंगिक समानता एवं लैंगिक हिंसा की रोकथाम, 20 को शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों में बालक/बालिकाओं की सुरक्षा एवं बाल मनोविज्ञान के संबंध में, 21 को शिक्षा, युवा व महिला कल्याण विभाग द्वारा साइबर सुरक्षा एवं लैंगिक हिंसा की रोकथाम, 22 को परिवहन विभाग के माध्यम से महिला यात्रियों की यात्रा के दौरान सुरक्षा व संवेदीकरण, 23 को व्यापारिक, व्यवसायिक संस्थानों की महिला कर्मियों की सुरक्षा, लैंगिक समानता के संबंध में, 24 को पुलिस विभाग द्वारा कानूनों के प्रति जागरूकता एवं मित्र पुलिस की अवधारणा का विकास के बारे में आम जनमानस को जागरूक किया जायेगा और 25 अक्टूबर 2020 को पुलिस थानों पर महिला हेल्प डेस्क की शुरूआत की जायेगी।

उन्होने कहा कि माह नवम्बर में 20 से 26 तक बच्चों की शिक्षा, दिसम्बर 2020 में 10 से 16 तक मानव तस्करी, जनवरी 2021 में माध्यमिक, उच्च, तकनीकी एवं स्वास्थ्य, फरवरी में 11 से 18 तक सामाजिक कुरीतियों, मार्च में जच्चा-बच्चा की सुरक्षा तथा माह अप्रैल 2021 में 13 से 20 तक चलने वाले कार्यक्रमों के अन्त में सम्पूर्ण अभियान में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं को पुरस्कृत एवं सम्मानित किया जायेगा। कार्यक्रम में नगर मजिस्ट्रेट जंग बहादुर यादव, पीडी राजेन्द्र श्रीवास, डीडी कृषि डा0 आशुतोष कुमार मिश्रा, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद, हरदोई, डीसी मनरेगा, डीसी एनआरएलएम, जिला विद्यालय निरीक्षक वीके दुबे, जिला पंचायत राज अधिकारी गिरीश चन्द्र, अपर जिला सूचना अधिकारी दिव्या निगम, जिला प्रोबेशन अधिकारी सुशील कुमार सिंह सहित अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी, पत्रकार बन्धु एवं लाभार्थी महिलायें उपस्थित रहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here