पत्रकार चीन को देता था भारतीय रणनीति की जानकारी

0
40
Ads by Eonads

परवेज़ अंसारी की रिपोर्ट

दिल्ली पुलिस ने शनिवार को बताया कि गिरफ्तार फ्रीलांस पत्रकार राजीव शर्मा सीमा पर भारतीय रणनीति और सैनिकों की तैनाती संबंधी संवेदनशील जानकारी कथित तौर पर चीन के खुफिया विभाग को दे रहा था। एक संवाददाता सम्मेलन में दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ के उपायुक्त संजीव कुमार यादव ने बताया कि शर्मा कुछ भारतीय मीडिया संगठनों के साथ-साथ चीन के ग्लोबल टाइम्स अखबार के लिए भी रक्षा मामलों पर लिखता था। पुलिस बताया कि चीनी खुफिया एजेंटों ने कथित तौर पर 2016 में उससे संपर्क किया था।

New Delhi: In this handout photo provided by Delhi Police, Delhi Police arrested freelance journalist Rajeev Sharma, who was allegedly found in possession of defence-related classified documents, in connection with a case, under the Official Secrets Act, yesterday, in New Delhi, Saturday, Sept. 19, 2020. (PTI Photo)(PTI19-09-2020_000125B)

शर्मा कुछ चीनी खुफिया अधिकारियों के संपर्क में भी था। उन्होंने दावा किया कि फ्रीलांस पत्रकार को गत डेढ़ साल में 40 लाख रुपये मिले। उसे प्रत्येक सूचना के बदले एक हजार अमेरिकी डॉलर (मौजूदा विनिमय दर के हिसाब से करीब 73 हजार रुपये) मिलते थे। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि केंद्रीय खुफिया एजेंसी की सूचना के आधार पर शर्मा को 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने उसके पास से रक्षा मंत्रालय के जुड़े गोपनीय दस्तावेज भी बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि शर्मा को फर्जी कंपनी के जरिये बड़ी राशि देने के आरोप में एक चीनी महिला और उसके नेपाली साथी को भी गिरफ्तार किया गया है।

चीनी महिला और उसका नेपाली साथी भी गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने इस मामले में एक चीनी महिला और उसके नेपाली साथी को भी जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दावा किया कि वे ‘चीनी खुफिया एजेंसी’ को संवेदनशील सूचना देने के एवज में फ्रीलांसर पत्रकार राजीव शर्मा को बड़ी राशि का भुगतान कर रहे थे। पुलिस ने बताया, ‘पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने फ्रीलांसर पत्रकार राजीव शर्मा को चीनी खुफिया एजेंसी को संवेदनशील सूचना देने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पत्रकार को मुखौटा कंपनियों के जरिये बड़ी राशि का भुगतान करने के आरोप में एक चीनी महिला और उसके नेपाली साथी को भी गिरफ्तार किया गया है।

चीनी खुफिया एजेंसी ने पत्रकार को संवेदनशील सूचनाएं देने और बदले में बड़ी राशि लेने को कहा था।’ उन्होंने बताया, ‘बड़ी संख्या में मोबाइल फोन, लैपटॉप और अन्य आपत्तिजनक/संवेदनशील सामग्री बरामद की गई है।’ पुलिस ने बताया कि शर्मा पीतमपुरा के रहने वाले हैं और दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने उन्हें गिरफ्तार किया है। पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) संजीव कुमार यादव ने शुक्रवार कहा , ‘उनके पास रक्षा से जुड़े कुछ गोपनीय दस्तावेज बरामद हुए हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here