गौशालाओं के भुगतान से पूर्व पशुओं का भौतिक सत्यापन अवश्य कराएं- जिलाधिकारी

कन्नौज – गौशालाओं के भुगतान से पूर्व पशुओं का भौतिक सत्यापन अवश्य कराएं। गोल्डन कार्ड बनवाने में लापरवाही के दृष्टिगत मुख्य चिकित्साधिकारी से स्पष्टीकरण। मुख्यमंत्री गोवंश सहभागिता योजना के अंतर्गत गौवंशों की सुपुर्दगी में तेजी लाई जाए। आवारा पशुओं को पकड़ने में लापरवाही के दृष्टिगत मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को अंतिम चेतावनी। लापरवाही किसी
 | 

 

 

 

कन्नौज – गौशालाओं के भुगतान से पूर्व पशुओं का भौतिक सत्यापन अवश्य कराएं। गोल्डन कार्ड बनवाने में लापरवाही के दृष्टिगत मुख्य चिकित्साधिकारी से स्पष्टीकरण। मुख्यमंत्री गोवंश सहभागिता योजना के अंतर्गत गौवंशों की सुपुर्दगी में तेजी लाई जाए। आवारा पशुओं को पकड़ने में लापरवाही के दृष्टिगत मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को अंतिम चेतावनी। लापरवाही किसी भी दशा में छम्य नही होगी।

उक्त निर्देश आज जिलाधिकारी  राकेश कुमार मिश्र ने कलेक्ट्रेट

सभागार में आयोजित विकास कार्याें की मासिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुये संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होनें क्रमशः दवाईयों की उपलब्धता, एम्बुलेंस सेवाओं की स्थिति, संस्थागत प्रसव, टीकाकरण एंव अधूरे निर्माण कार्यों, छात्रवृत्ति योजना, मुख्यमंत्री आवास, प्रधानमंत्री आवास, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, नई सड़कों/सेतुओं का निर्माण, सड़कों की गढढामुक्त की स्थिति आदि विकास से संबंधित कराये जा रहे कार्यों की गहन समीक्षा की जिसमें के विभागों को कार्यों में सुधार व तेजी लाने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने नहर सिंचाई विभाग से टेल तक पानी पहुंचने में कुल 47 नहरों में से जनपद की 45 नहरों में टेल तक पानी समय व मांग के अनुरूप बताया गया एवं 02 नहरों में अभी तक पानी की आपूर्ति न होने की स्थिति पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशासी अभियंता को शीघ्र कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने स्तानीय स्थल पर सभी कार्यालयों पर विद्युत देयकों के बकाये की समीक्षा की एवं सभी कार्यालयाध्यक्षों को विद्युत बिल के सापेक्ष प्राप्त धनराशि का भुगतान 02 दिनों में किये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने निवेश मित्र एवं झटपट पोर्टल पर आने वाले आवेदनों की रिपोर्ट ससय प्रेषित करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री किसान समान निधि के अंतर्गत शत प्रतिशत कृषकों को लाभ दिलाये जाने के उद्देश्य से लगभग 4868 डेटा का सत्यापन बैंक से संपर्क कर डेटा लेते हुए नियमानुसार कार्यवाही करते हुए लाभ दिलाये जाने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना के अंतर्गत सभी विकास खण्डों से गौवंशों के चिन्हीकरण एवं जनसहभागिता के माध्यम से चिन्हित पशुओं को हस्तांतरण की कार्यवाही किये जाने की समीक्षा में लापरवाही पाए जाने पर एवं आवारा पशुओं को जनपद में लक्ष्य के सापेक्ष मात्र 02 पशु पकड़ने की निम्न कार्यवाही करने की स्थिति में कड़ा रोष व्यक्त किया एवं अंतिम चेतावनी देते हुए शीघ्र लक्ष्य की पूर्ति के निर्देश दिए। उन्होनें ईयर टैगिंग का कार्य शीघ्र पूर्ण किये जाने एवं गौवंशों की सुपुर्दगी की कार्यवाही पंजिकाओं में अंकित शीघ्र पूर्ण किये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को गौशालाओं के भुगतान से पूर्ण उसमे पलने वाले पशुओं, अन्य वस्तुओं का भौतिक सत्यापन शत प्रतिशत किये जाने के निर्देश दिए।

बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी से गोल्डन कार्ड की प्रगति की समीक्षा की जिसमें प्रगति अच्छी न होने की स्थिति में एवं कार्य में शिथिलता बरतने के दृष्टिगत मुख्य चिकित्साधिकारी से स्पष्टीकरण लिए जाने हेतु मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिए। उन्होंने जनपद में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निर्माण की प्रगति का जायजा लिया जिसमें  गुणवत्ता की कमी एवं उसके उपरांत भी कार्यों में शिथिलता के दृष्टिगत कार्यदायी संस्था के विरुद्ध अपर मुख्य सचिव को पत्र लिखते हुए स्थिति से अवगत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने मिशन शक्ति के अभी भी कुशलता पूर्ण संचालन के दृष्टिगत मा0 मुख्यमंत्री जी पुरस्कार हेतु जनपद से जिला प्रोबेशन अधिकारी का नाम प्रस्तावित कर भेजे जाने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिए। इसके अतिरिक्त उन्होंने जनपद में संचालित रु0 50 लाख से ऊपर की परियोजनाओं हेतु नामित सभी 19 कार्यदायी संस्थाओं की भी समीक्षा करते हुए निर्माण कार्यों में तेजी लाये जाने के निर्देश दिए।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक, जिला विकास अधिकारी, उपनिदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, आदि संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।