सुपोषण चैपाल के प्रति ग्रामीण महिलाओं में उत्साह

जागेशवर प्रसाद वर्मा की रिपोर्ट बलौदाबाजार-कोरोना काल के बाद धीरे-धीरे सामान्य होती जिंदगी के बाद आं.बा. केन्द्रों में सुपोषण चैपाल का आयोजन किया गया। सुपोषण चैपाल के प्रति स्थानीय ग्रामीणों एवं महिलाओं में भारी उत्साह देखा गया। सुपोषण चैपाल के तहत् स्थानीय जनों एवं आं.बा. कार्यकर्ता के द्वारा केन्द्रों में कई प्रकार
 | 
सुपोषण चैपाल के प्रति ग्रामीण महिलाओं में उत्साह

 

 

जागेशवर प्रसाद वर्मा की रिपोर्ट

 

बलौदाबाजार-कोरोना काल के बाद धीरे-धीरे सामान्य होती जिंदगी के बाद आं.बा. केन्द्रों में सुपोषण चैपाल का आयोजन किया गया। सुपोषण चैपाल के प्रति स्थानीय ग्रामीणों एवं महिलाओं में भारी उत्साह देखा गया। सुपोषण चैपाल के तहत् स्थानीय जनों एवं आं.बा. कार्यकर्ता के द्वारा केन्द्रों में कई प्रकार के पौष्टिक खाद्यान्न को सजाया गया। लगभग 3 हजार बच्चों को खीर-पुड़ी, गर्भवती माताओं का गोदभराई, 05 से 06 माह के बच्चों का अन्नप्राशन कराया गया। विकासखंड बलौदाबाजार के ग्राम ढनढनी में जिला पंचायत  अध्यक्ष श्री राकेश कुमार वर्मा, जिला पंचायत सदस्य एवं सभापति सहकारिता विभाग श्री गोरेलाल साहू, स्थानीय सरपंच तथा समूह की महिलाओं के द्वारा अन्नप्राशन, गोदभराई का कार्य किया गया। जिला पंचायत के अध्यक्ष ने अपने उद्बोधन में कहा कि सभी बच्चे सुपोषित हो और माताएं बच्चों की देखभाल ठीक से करें तथा शासन की योजनाओं का लाभ सभी को प्राप्त करने का आह्वान किया गया। जिले के विभिन्न विकासखंडों के केन्द्रों जिला पंचायत सदस्य, जनपद पंचायत, सदस्य, ग्राम पंचायत के पदाधिकारी के द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों में पहुंचकर सुपोषण चैपाल  में नव नैनीहालो का अन्नप्राशन कराकर उन्हें आर्शीवाद दिया गया और उनके उज्जवल भविष्य की कामनाएं की गई। कोरोना काल के लंबे समय बाद सुपोषण चैपाल के आयोजन से ग्रामीणों में भारी उत्साह देखा गया। इस सिलसिले में अगला सुपोषण चैपाल 18 मार्च को होगा।